इंसाफ के लिए इधर-उधर भटक रही दुष्कर्म पीड़िता,4 युवकों ने किया था दुष्कर्म……

फरीदाबाद से मोनू पांचाल की रिपोर्ट

 

केवल उन्नाव, कठुआ और सासाराम में ही दुष्कर्म पीड़िताओं को इंसाफ के लिए भटकना पड़ रहा है। फरीदाबाद भी इसका अपवाद नहीं है। यहां तीन महीने पहले बलात्कार का शिकार हुई एक महिला न्याय के लिए भटक रही है…और जब उसे इंसाफ नहीं मिला तो वो अपने पति के साथ शहर के मिनी जंतर-मंतर कहे जाने वाले बादशाह खान चौक पर धरने पर बैठ गई। मामला 15-16 जनवरी की आधी रात चार युवक महिला के घर में घुस आए…उसके पति और उसके किरायेदार को बंधक बनाकर उसके साथ मारपीट की…फिर उसे बंधक बनाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। घटना के बाद पुलिस ने दिखावे के लिए मुकदमा तो दर्ज कर लिया…लेकिन अब तक आरोपी खुलेआम घूम रहे हैं। पीड़िता ने वारदात के बाद मौके पर पहुंचे सदर थाना इंचार्ज पर भी संगीन आरोप लगाए। पीड़िता का कहना है कि एसएचओ ने उसकी रस्सी खोलने की जगह उसकी तस्वीरें खींची और उससे भद्दे-भद्दे सवाल पूछे…तभी से महिला पुलिस के चक्कर लगा रही है। लेकिन उसकी कहीं कोई सुनवाई नहीं हो रही है। थक हार कर अपनी आवाज आलाधिकारियों और मुख्यमंत्री तक पहुंचाने के लिए महिला अपने पति के साथ धरने पर बैठ गई है। उसने कहा है कि अगर आरोपियों को गिरफ्तार कर उन्हें कड़ी से कड़ी सजा नहीं दी जाती है तो वह अपने परिवार के साथ आत्महत्या कर लेगी। 

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com