एक बार फिर पंचायत ने सुनाया तुगलकी फरमान…………..

मेरठ से रिज़वान सलमानी की रिपिर्ट

मेरठ में एक बार फिर पंचायत का तुगलकी फरमान सामने आया है। जहाँ पंचायत ने बलात्कार पीड़िता की अस्मत की कीमत महज तीन लाख रुपये लगा डाली। ये शर्मनाक फरमान मेरठ के थाना खरखौदा क्षेत्र की एक पंचायत ने सुनाया है। आरोप है गांव के ही दो दबंगों ने एक किशोरी को जबरन अपनी हवस का शिकार बना डाला। बताया ये भी जाता है कि इस दौरान आरोपियों ने पीड़िता का अश्लील वीडियो भी बना डाला और वीडियों के एवज में उसे ब्लैकमेल करने लगे। इस शर्मनाक करतूत पर से पर्दा तब उठ गया जब पीड़िता गर्भवती हो गयी। परिजनों ने जब आरोपी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की कोशिश की तो गांव की पंचायत ने उन्हें रोक लिया औऱ पीड़िता को न्याय दिलाने के लिये पंचायत हुई। पंचायत में फैसला हुआ कि छतरी गांव के रहने वाले दो युवक पवन और विपिन, रेप का शिकार हुई सोलह साल की किशोरी को तीन लाख रूपये देंगे। दो लाख रुपये परिजनों को तत्काल दिए जाएंगे साथ ही एक लाख रुपये अबोर्शन के बाद दिये जाएंगे। तीन माह कि गर्भवती पीड़िता का बीते कल का अबॉर्शन भी करा दिया गया। जैसे ही पंचायत मीडिया की सुर्खियां बनी तो पुलिस ने इस मामले में पीड़ित परिवार की तहरीर पर दो लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। रेप आरोपियों कि धरपकड़ के लिये पुलिस छतरी गांव में दबिश दे रही है, लेकिन आरोपी अपने घर से फरार है। पुलिस ने आरोपियों के परिजनों के मोबाइल अपने कब्जे में ले लिए है। घटना के बाद से पीड़िता के घर पर लोगों का तांता लग गया है। वही पीड़िता की मां का कहना है कि उन्हें इंसाफ चाहिए न कि पैसे। देखना होगा कि पुलिस रेप पीड़ित किशोरी के आरोपियों को सींखचों के पीछे कब पहुंचाती है। 

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com