ओलंपियन अंजू बॉबी जॉर्ज ने की CM से शिकायत (बंगलुरु)

केरल के खेल मंत्री ईपी जयराजन एक बार फिर विवाद में फंस गए. उन पर ओलंपियन और अर्जुन पुरस्कार विजेता एथलीट अंजू बॉबी जॉर्ज ने अपमान करने का आरोप लगाया है. केरल खेल परिषद की अध्यक्ष अंजू ने इसकी मुख्यमंत्री पी विजयन से भी शिकायत की है.

2003 में वर्ल्ड एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में पदक जीतकर इतिहास रचने वाली अंजू ने कहा कि नई राज्य सरकार के सत्ता में आने के बाद वह सात जून को परिषद के उपाध्यक्ष के साथ खेल मंत्री से मिलने गई थीं. अंजू को पिछली यूडीएफ सरकार ने परिषद का अध्यक्ष नियुक्त किया था.

उन्होंने मंत्री का हवाला देते हुए कहा, ‘हमने सोचा कि वह केरल में खेलों के स्तर के बारे में हमसे बात करेंगे. पहली ही बैठक में मंत्री ने कहा कि आप सभी को पिछले मंत्रालय ने सदस्य चुना है. इसलिए आप सभी दूसरी पार्टी के सदस्य हो. आप जो भी नियुक्तियां और तबादले कर रहे हो, गैर कानूनी हैं.’ एथलीट ने कहा कि परिषद की बैठक में शिरकत लेने के लिए उनके द्वारा बंगलुरु से तिरुवनंतपुरम तक लिए गये फ्लाइट टिकट पर भी मंत्री ने आपत्ति जताई.

बंगलुरु में बसी अंजू ने कहा कि मंत्री ने उनसे कहा कि ‘यह नियमों के खिलाफ है. मैं इन सब चीजों को रोक सकता हूं.’

लंबी कूद की एथलीट अंजू ने कहा कि उनके अलावा प्रीजा श्रीधरन, भारतीय हॉकी कप्तान पी आर श्रीजेश और केरल क्रिकेट संघ के अध्यक्ष टी सी मैथ्यू परिषद के अन्य सदस्य हैं. उन्होंने कहा, ‘मंत्री ने कहा कि आप सभी भ्रष्टाचार में लिप्त हो. हम किसी राजनीतिक पार्टी के लिए काम नहीं कर रहे. खेल ही हमारी पार्टी है. मैं किसी पार्टी कांग्रेस या बीजेपी की सदस्य नहीं हूं.’

अंजू ने कहा, ‘हम अपना कर्तव्य निभा रहे हैं. अगर सरकार इसे स्वीकार करने के लिए तैयार नहीं हैं तो वे हमें छोड़ने के लिए कह सकते हैं. लेकिन हमें भ्रष्टाचारी कहा जाना स्वीकार्य नहीं है.’ यह पूछने पर कि क्या वह अपने पद से हटने को तैयार हैं तो अंजू ने कहा कि उन्होंने अभी तक फैसला नहीं किया है. उन्होंने कहा, ‘हम सभी खिलाड़ी हैं. मंत्री के बर्ताव के बारे में मुख्यमंत्री को सूचित करना मेरा कर्तव्य है.’ जयराजन ने हालांकि इन आरोपों से इनकार किया और कहा कि अंजू उनके साथ हुई बैठक के बाद वह ‘काफी खुश’ होकर गई थीं.

इन आरोपों के बारे में पूछने पर राज्य के खेल मंत्री ने कहा कि उन्होंने बुरा बर्ताव नहीं किया.  ‘नहीं, कभी नहीं.’ राज्य खेल मंत्री ने यह भी कहा कि वह इस बात से वाकिफ नहीं हैं कि इस एथलीट ने मुख्यमंत्री से उनकी शिकायत की है.

जयराजन इससे पहले भी विवादों में रहे हैं. उन्होंने दिवंगत मुक्केबाज मोहम्मद अली को श्रद्धांजलि देते हुए उन्हें केरल का खिलाड़ी बताया था. जयराजन ने 4 जून को मोहम्मद अली के निधन के बाद उन्हें न केवल उन्हें केरल का खिलाड़ी बताया बल्कि ये भी कहा कि उन्होंन गोल्ड मेडल जीतकर दुनियाभर में केरल का मान बढ़ाया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com