कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय ने मनाया अपना 31वां दीक्षांत समारोह

कुरुक्षेत्र से विनोद कुमार खूूंगर की रिपोर्ट

देश की ए प्लस ग्रेड यूनिवर्सिटियों में शुमार कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय ने गुरुवार को अपना 31वां दीक्षांत समारोह मनाया। उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू दीक्षांत समारोह के मुख्य अतिथि थे। इस मौके पर उपराष्ट्रपति ने 2 हजार से ज्यादा छात्र-छात्राओं को समारोह में डिग्रियां प्रदान की। उन्होंने विभिन्न संकायों में 9 स्टूडेंट्स को गोल्ड मेडल प्रदान किए। इनमें 7 छात्राएं थीं। दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए नायडू ने कहा कि लोगों को हिंदी भाषा के साथ-साथ दूसरी राज्यों की भाषा का भी ज्ञान होना चाहिए। उन्होंने कहा कि हिंदी के बिना हिंदुस्तान में रहना मुश्किल हैं लेकिन दूसरी क्षेत्रीय और अंतर्राष्ट्रीय भाषाओं का भी ज्ञान होना चाहिए। उपराष्ट्रपति ने कहा कि कुरुक्षेत्र की धरती पर पहुंचना उनके लिए सौभाग्य की बात है। इसी धरती पर धर्म और अधर्म की लड़ाई लड़ी गई। यहीं पर भगवान कृष्ण ने अर्जुन को गीता का उपदेश दिया। समारोह में हरियाणा के गृह सचिव एसएस प्रसाद को भी प्रदेश के राज्यपाल प्रो.कप्तान सिंह सोलंकी ने पीएचडी की डिग्री प्रदान की। दीक्षांत समारोह में प्रदेश के शिक्षा मंत्री रामविलास शर्मा समेत प्रदेश के राज्य मंत्री कृष्ण बेदी भी मौजूद रहे।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com