बिजनौर के ज़िला अस्पताल में मानवता को शर्मसार करने वाला मामला

बिजनौर से शारिक जैदी की रिपोर्ट

जनपद बिजनौर के ज़िला अस्पताल में मानवता को शर्मसार करने वाला मामला उस वक़्त सामने आया जब कोतवाली देहात सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से हालत बिगड़ने पर एक जच्चा  को बिजनौर ज़िला अस्पताल रेफर किया गया, लेकिन अस्पताल प्रशासन इतना निर्दयी हो गया कि उस प्रसव पीड़ा से तड़प रही महिला को भर्ती करना तो दूर बल्कि महिला को अस्पताल से बाहर का रास्ता दिखा दिया। घटना देर रात की है, मानवता तो शर्मसार उस वक़्त हुई जब प्रसव पीड़ा से तड़प रही महिला ने इतनी रात को अस्पताल के गेट पर ही एक नवजात को जन्म दिया और अस्पताल स्टाफ न सिर्फ सोता रहा बल्कि उसकी डिलीवरी होने के बाद भी उसे किसी ने देखना तक मुनासिब नही समझा। इस सारे प्रकरण में महिला ने बच्चे को जन्म तो दे दिया लेकिन खुद बेहोश हो गई और नवजात के सिर में गंभीर चोट लगने से बच्चे की जान नही बचा पाई। पीड़ित महिला व उसके परिजन प्रशासन से इंसाफ की माँग कर रहे है। वही इस मामले में महिला ज़िला अस्पताल की सी एम एस डॉक्टर आभा वर्मा का कहना है कि मामला सुबह इनके संज्ञान में आया है और पीड़ितों से लिखित में शिकायत कर दोषी अस्पताल स्टाफ के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। हालांकि सीएमएस कैमरे के सामने कुछ भी बोलने से बचती रही।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com