मुजफ्फरनगर के व्यापारियों और BJP नेताओं पर टूटा पुलिस का डंडा

मुजफ्फरनगर से विकास सैनी की रिपोर्ट

मुजफ्फरनगर में रविवार सुबह पुलिस का डंडा व्यापारियों कहर बनकर टूटा। अतिक्रमण हटाने को लेकर हुई तीखी झड़प के बाद पुलिस ने जमकर लाठी भांजी। पुलिस की लाठी की ज़द में केवल व्यापारी ही नहीं, बल्कि बीजेपी नेता और कार्यकर्ता भी आए। पुलिस के लाठीचार्ज में बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुनील तायल समेत कई लोग घायल हो गए। जिसके विरोध में व्यापारियों ने शहर के शिव चौक पर जमकर हंगामा काटा और पुलिस के खिलाफ जोरदार नारेबाजी भी की।

असल में शहर के भगत सिंह रोड पर सिटी मजिस्ट्रेट और सीओ की अगुवाई में नगर पालिका ने अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया। प्रशासन के बाहुबली के सामने जो भी अवैध निर्माण आया, उसे ध्वस्त करता चला गया, जबकि व्यापारियों ने इसका विरोध किया। इसी बात को लेकर पुलिस और व्यापारियों के बीच तीखी नोंकझौंक हो गई। जिस पर पुलिस ने व्यापारियों पर लाठीचार्ज कर दिया। चश्मदीदों की मानें तो पुलिस ने व्यापारियों और बीजेपी नेताओं को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा। व्यापारियों को नेतृत्व कर रहे बीजेपी नेता सुनील तायल के तो लाठीचार्ज के दौरान कपड़े तक फट गए।

आपको बता दें कि शनिवार को भी प्रशासन ने भगतसिंह रोड पर अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया था। शनिवार को भी प्रशासनिक अधिकारियों और व्यापारियों के बीच तीखी नोंकझौंक हुई थी। पुलिस ने तब भी व्यापारियों को लाठीचार्ज किया था, लेकिन उस वक्त बीजेपी नगर विधायक कपिलदेव अग्रवाल ने मौके पर पहुंचकर मामला संभाल लिया था, मगर रविवार को मामला इतना बढ़ गया कि पुलिस ने बीजेपी नेताओं और व्यापारियों को जमकर पीटा।

आपको ये भी बता दें कि आए दिन शहर में लगने वाले जाम से निजात दिलाने के लिए जिला प्रशासन पिछले कई दिनों से शहर में अतिक्रमण हटाओ अभियान चला रहा है। शहर के महावीर चौक, प्रकाश चौक, कोर्ट रोड, झांसी की रानी और टाउन हॉल आदि स्थानों से पुलिस बल के साथ मिलकर सिटी मजिस्ट्रेट और नगर पालिका के अधिकारियों-कर्मचारियों ने अतिक्रमण हटावाया था।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com