कम पड़ गए 1 लाख 20 हजार रुपये तो तोड़ी शादी

फिरोजाबाद (मुकेश कुमार बघेल)

पीएम मोदी ने कालेधन और भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने के लिए नोटबंदी जैसा साहसिक कदम उठाया है…लेकिन इसके साइड इफेक्ट भी देखने को मिल रहे हैं…सबसे ज्यादा असर तो शादी वाले घरों में देखने को मिल रहा है। यहां तक कि नोटबंदी के कारण शादियां टूटने तक की नौबत आ रही है। दहेज लोभी नोटबंदी को बहाना बनाकर शादियां तोड़ रहे हैं…

नोटबंदी ने भ्रष्टाचारियों और काली कमाई के धनकुबेरों के अरमानों पर भले ही पानी फेर दिया हो…लेकिन इसने दहेज लोभियों की बांछें खिला दी है…वे अब नोटबदीं को बहाना बनाकर अपनी मांग बढ़ा रहे हैं…और मांग पूरी नहीं होने पर शादी तक तोड़ रहे हैं…ऐसा ही एक मामला फिरोजाबाद के शिकोहाबाद के चितावली गांव में सामने आया है। टीका करने वर पक्ष के यहां पहुंचे वधू पक्ष के पास एक लाख रुपये कम पड़ गए तो वर पक्ष ने टीके से ही इनकार कर दिया।

दरअसल फिरोजाबाद के सिरसागंज निवासी विक्रम की बेटी मोहिनी का विवाह, फिरोजाबाद के ही शिकोहाबाद निवासी राजेश पुत्र कालीचरन से तय हुआ था। 24 नवंबर को टीका था। वधू पक्ष, वर पक्ष के यहां पहुंचा भी। 5 लाख 20 हजार रुपये दिए जाने थे, लेकिन मोहिनी के पिता नोटबंदी के चलते पूरी रकम का इंतजाम नहीं कर पाए। इस तरह 1 लाख 20 हजार रुपये कम पड़ गए। इस पर वर पक्ष ने टीका करने से ही इनकार कर दिया। वह पूरे पैसे देने पर अड़ा रहा, लेकिन वधू पक्ष की अनुनय विनय काम न आ सकी।

वर पक्ष की हठ के कारण लड़की पक्ष के पैरों तले की जमीन खिसक गई…लड़की पक्ष और ग्रामीण वर पक्ष को समझाते-समझाते हार गए…लेकिन वह टस से मस नहीं हुआ। गांव में पंचायत भी बैठी…लेकिन दूल्हा अपने रवैये पर अड़ा रहा…वहीं जब इस बात की ख़बर पुलिस को हुई तो उसने पहुंचकर वर पक्ष के दो लोगों को हिरासत में ले लिया…हालांकि पुलिस के पहुंचने से पहले दूल्हा और उसके परिजन फरार हो चुके थे।

नोटबंदी ने हाथों में मेहंदी रचाने और सात फेरे लेने के मोहिनी के सपनों को चूर-चूर कर दिया। लेकिन नोटबंदी के कारण शादी टूटने का ये अकेला मामला नही है। इससे पहले बुधवार को दिल्ली के जगतपुरी इलाके में भी ऐसा ही एक वाक्या सामने आया था…जब वर पक्ष ने शादी से केवल दो दिन पहले कार, गहने और भारी-भरकम कैश न मिलने की आशंका जताते हुए शादी तोड़ दी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com