गैंगरेप मामले में आज़म खान को नोटिस जारी

सुप्रीम कोर्ट ने बुलंदशहर गैंगरेप को राजनीतिक साजिश बताने के आजम खान के बयान पर कड़ी नाराजगी जाहिर करते हुए राज्य सरकार और आजम खान को नोटिस जारी किया है। अदालत ने राज्य सरकार से कुछ सवाल पूछे हैं और तीन सप्ताह के भीतर इसका जवाब देने के लिए कहा है। कोर्ट ने फिलहाल इस मामले की सीबीआई जांच पर रोक भी लगा दी है. सोमवार को सुनवाई के दौरान कोर्ट ने राज्य सरकार के पूछा कि क्या कोई संवैधानिक पद पर बैठा शख्स इस तरह का बयान दे सकता है, जिससे उसका कोई लेना-देना नहीं है और जिससे पीड़िता का व्यवस्था पर यकीन कम हो और उसके मन में जांच को लेकर शंका पैदा हो। अदालत ने पूछा कि क्या ‘राज्य’ जो जनता का संरक्षक होता है,  किसी ऐसे शख्स को इस तरह का बयान देने की इजाजत देता है जिस पर कानून और व्यवस्था को बरकरार रखने की जिम्मेदारी हो।

कोर्ट ने पूछा कि क्या इस तरह का बयान अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के अंदर आता है… अदालत ने इस मामले में वरिष्ठ वकील फली एस नरीमन को कोर्ट का सलाहकार नियुक्त किया है। कोर्ट सामूहिक बलात्कार मामले की सुनवाई राज्य से बाहर करने की पीड़ित परिवार की याचिका पर सुनवाई कर रही थी। अपनी याचिका में पीड़ित मां-बेटी ने कोर्ट से गुहार लगाई थी कि मुकदमे को दिल्ली ट्रांसफर करने के साथ-साथ कोर्ट अपनी निगरानी में सीबीआई जांच कराए। साथ ही परिवार की सुरक्षा और नाबालिग पीड़िता की शिक्षा आदि का इंतजाम किया जाए। याचिका में आजम खान और लापरवाह पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com