ब्रिक्स सम्मेलन: मोदी ने साधा पाक पर निशाना कहा…हमारे पड़ोस में आतंकवाद जनक देश

गोवा में चल रहे आठवें ब्रिक्स सम्मेलन के दूसरे दिन ब्रिक्स नेताओं के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बैठक चल रही है। प्रधानमंत्री ने कहा कि ब्रिक्स देश शांति, सुधार की आवाज बनेंगे। प्रधानमंत्री ने कहा कि आतंकवाद हमारे लिए सबसे बड़ा खतरा है और दुर्भाग्य यह है कि इसका जनक देश हमारे पड़ोस में ही है। बढ़ता आतंकवाद आज मिडिल ईस्ट, पश्चिम एशिया, यूरोप और साउथ एशिया के लिए खतरा बन चुका है। ब्रिक्स नेताओं के साथ विस्तारित बैठक में प्रधानमंत्री ने कहा, 'हम इस राय से एकमत हैं कि आतंकवाद और इसके समर्थकों को सजा मिलनी चाहिए, इनाम नहीं।'  

प्रधानमंत्री ने कहा कि पूरी दुनिया में फैला आतंकवाद एक देश के जरिए आपस में जुड़ा है। यह देश न केवल आतंकियों को पनाह देता है, बल्कि उनकी मानसिकता भी बनाता है। यही मानसिकता राजनीति लाभ के लिए आतंकवाद को यूज करती है। इस तरह की मानसिकता की हम निंदा करते हैं। ब्रिक्स के रूप में हमें साथ खड़ा होने और काम करने की जरूरत है। ब्रिक्स नेताओं से अपील करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ने कहा कि ब्रिक्स देशों को सीसीआईटी (CCIT) को स्वीकार के लिए  साथ काम करना चाहिए और आतंकवाद के खिलाफ व्यावहारिक सहयोग के लिए आगे बढ़ना चाहिए। उन्होंने कहा कि भारत ने हाल ही में पेरिस जलवायु समझौते को स्वीकार किया है। भारत विकास और जलवायु परिवर्तन के बीच तालमेल बिठाकर चलने को प्रतिबद्ध है। 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com