20 October 2020 , Tuesday
Login  
Home -> देश

रिपोर्ट : जितेंद्र कुमार
मोदीनगर | गाजियाबाद
मोदीनगर विधायक ने शिलान्यास लोकार्पण में की शिरकत,

मोदीनगर विधायक ने शिलान्यास लोकार्पण में की शिरकत,...

मोदीनगर विधायक डॉ मंजू शिवाच ने मोदीनगर विधानसभा क्षेत्र के ब्लॉक भोजपुर में आयोजित कार्यक्रम में की शिरकत। जिसमें पंचायती राज विभाग के अंतर्गत निर्मित/ निर्माणाधीन पंचायत भवनों व सामुदायिक शौचालय के शिलान्यास व ई- लोकार्पण माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के कर कमलों द्वारा किया गया। इस अवसर पर ग्रामीण विकास मंत्री माननीय राजेंद्र सिंह जी एवं पंचायती राज मंत्री माननीय भूपेंद्र सिंह चौधरी जी की सहभागिता रही।इस कार्यक्रम में मोदीनगर विधानसभा क्षेत्र के ब्लॉक भोजपुर मे 14 ग्राम पंचायत घर एवं 40 सामुदायिक शौचालयों का लोकार्पण किया गया।सरकार का उद्देश्य स्पष्ट है कि सभी ग्रामों को वाईफाई से युक्त होंगे तथा ग्रामों में जन सुविधा केंद्र भी उपलब्ध होगा ।मोदी जी एवं योगी जी के द्वारा किए जा रहे जन लोगों के लिए उत्कृष्ट कार्यों के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद। इस अवसर पर ब्लाक प्रमुख श्री कृष्ण वीर सिंह बीडीओ भोजपुर एडीओ भोजपुर एवं समस्त स्टाफ ,ग्रामों के प्रधान आदि गणमान्य लोग उपस्थित रहे।...

yesterday 1K ने देखा
रिपोर्ट : अखिलेश सैनी
रिपोर्टर | बलिया
पुलिस ने की एकतरफा कार्रवाई: वीरू सिंह

पुलिस ने की एकतरफा कार्रवाई: वीरू सिंह...

बलिया। दुर्जनपुर हत्याकांड के मुख्य आरोपित धीरेंद्र प्रताप सिंह के समर्थन में करणी सेना खुलकर सामने आ गई है। रविवार को करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष वीरू सिंह के जनपद में पहुंचते ही युवाओं ने पीडब्ल्यूडी डाक बंगले में जोरदार स्वागत किया। प्रेसवार्ता में वीरू सिंह ने बताया कि पुलिस ने लखनऊ से धीरेंद्र प्रताप सिंह को सुरक्षित गिरफ्तार कर लिया है। अब प्रशासन की जिम्मेंदारी है कि वे उन्हें सुरक्षित लेकर बलिया आए। जिला प्रशासन पर एकतरफा कार्रवाई का आरोप लगाते हुए कहा कि धीरेंद्र प्रताप सिंह के परिजनों को पीटकर महिलाओं के साथ दु‌र्व्यवहार किया गया। इसका करणी सेना विरोध करता है। करणी सेना धीरेंद्र प्रताप सिंह को न्याय दिला कर रहेगी, क्योंकि उन्होंने आत्मरक्षा में गोली चलाई थी। कहा कि वे गांव जाकर उनके परिजनों के साथ ही दूसरे पक्ष से भी मिलेंगे। उन्होंने घटना के सीबीआई जांच की मांग की। करणीसेना के कार्यकर्ताओं की भीड़ को देखते हुए भारी पुलिस व पीएसी बल तैनात की गई थी।...

yesterday 425 ने देखा
रिपोर्ट : कपिल सिंह
ब्यूरो चीफ | बाराबंकी
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से किया सीधे संवाद

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से किया सीधे संवाद...

बाराबंकी। मिशन शक्ति अभियान के अंतर्गत महिला सुरक्षा, सम्मान व महिला स्वावलंबन को लेकर विभिन्न विभागों द्वारा कार्यक्रम आयोजित कर महिलाओं को जागरूक किया गया। महिलाओं की सुरक्षा, सम्मान एवं स्वावलंबन हेतु चलाये जा रहे मिशन शक्ति अभियान के दौरान ग्राम प्रधानों, शहरी व स्थानीय निकायों, किसान मजदूरों के लिए लैंगिक संवेदीकरण महिला एवं बाल सुरक्षा हेतु संवेदनशीलता लाने हेतु लैंगिक हिंसा की रोकथाम करना शामिल है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से बाराबंकी के ग्राम चंदवारा महिला ग्राम प्रधान श्रीमती प्रकाशनी जायसवाल तथा ग्राम कोठी ग्राम प्रधान महजबीन से महिला सशक्तिकरण जागरूकता और मिशन शक्ति अभियान के अंतर्गत चर्चा की गई। जिसमें मुख्यमंत्री द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना, भ्रूण हत्या समाप्त करने, स्वच्छ भारत मिशन, उज्जवला योजना, महिला हेल्प डेस्क आदि के संबंध में महिला जनप्रतिनिधियों से जागरूकता बढ़ाने की बात कही। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत बनाए गए शौचालय नारी गौरव का प्रतीक है। इससे महिलाओं की सुरक्षा में बढ़ोतरी हुई है अब उन्हें खुले में शौच नहीं जाना पड़ रहा है। इसके अलावा लॉकडाउन के दौरान उज्जवला योजना के तहत फ्री सिलेंडर देकर महिलाओं को स्वावलंबी बनाया गया। उन्होंने कहा कि सभी ग्राम पंचायतों में पब्लिक ऐड्रेस सिस्टम लगाया जाए जिससे कि भजन राष्ट्रभक्ति आदि के गीत बजाये जाये एवं समय-समय पर महत्वपूर्ण घोषणाएं आदि की जाए। ग्राम स्तर पर सरकार द्वारा चलाए जा रहे सभी इमरजेंसी नंबर जैसे 112, 1090, 181, 108, 1076, आदि का प्रचार-प्रसार कराया जाए। जिससे कि लोग इमरजेंसी नंबरों के माध्यम से तत्काल सेवा प्राप्त कर सकें। ग्राम कोठी महिला प्रधान द्वारा मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि मेरे द्वारा ग्राम में साप्ताहिक बैठक आयोजित की जाती है, जिसमें बालकों व युवाओं को बुलाकर महिलाओं के प्रति व्यवहार व आचरण के बारे में विस्तार से जागरूक किया जाता है। माननीय मुख्यमंत्री द्वारा ग्राम प्रधान महजबीन की बातों से काफी प्रभावित होते हुए काफी प्रसन्नता व्यक्त की। साथ ही उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायतों में प्रत्येक सप्ताह बैठक कर बालको एवं युवाओं को समझाया जाए कि वह किसी भी प्रकार के अपराध में सम्मिलित ना हो। किशोरियों एवं महिलाओं को बताया जाए कि यदि उनके खिलाफ कोई उत्पीड़न होता है तो तत्काल 1090 पर कॉल कर सूचना दी जाए पुलिस द्वारा तत्काल मदद पहुंचाई जाएगी। उन्होंने सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिए कि वह महिलाओं से जुड़े अपराधियों को गंभीरता से लें एवं महिलाओं की सुरक्षा और सम्मान से कोई भी समझौता ना करें। महिलाओं को पूर्ण सुरक्षा दी जाए। महिला अपराधों पर रोक लगाई जाए। महिला कल्याण विभाग द्वारा राजकीय सम्प्रेक्षण गृह/विशेष गृह(किशोरी) जनपद बाराबंकी में आवासित संवासिनियों को पाक्सो एक्ट के अन्तर्गत बच्चों का यौन शोषण से बचाव, सहायता एवं पुर्नवास की जानकारी व जागरूकता हेतु आडियो-वीडियो तथा मूवी डिस्प्ले कर जागरूक किया गया तथा कृषि विभाग द्वारा मा0शरद अवस्थी विधायक रामनगर की उपस्थित में महिला कृषकों, महिला श्रमिकों, महिला प्रधानों आदि को जागरूक करते हुए कृषि क्षेत्र में सर्वोत्तम कार्य करने वाली महिलाओं को सम्मानित किया गया। इसी क्रम में जनपद के ग्रामीण, शहरी क्षेत्रों, प्रमुख त्यौहारों, प्रमुख धार्मिक स्थलों पर लैंगिक संवेदीकरण, महिला एवं बाल सुरक्षा संवेदनशीलता लाने के लिए एलईडी वैन द्वारा वीडियो क्लिप दिखाकर प्रचार-प्रसार किया गया। अभियान के अन्तर्गत 1098 चाइल्ड लाइन की टीम द्वारा विकास खण्ड दरियाबाद में बच्चों को यौन हिंसा से सुरक्षा व संरक्षण हेतु जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसके अलावा जनपद के विभिन्न सार्वजनिक स्थानों पर एलईडी वैन के माध्यम से ऑडियो वीडियो मूवी दिखा कर महिलाओं बालिकाओं को उनके अधिकारों सशक्त स्वावलंबी बनाए जाने हेतु जागरूक किया गया। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में जिलाधिकारी डॉ आदर्श सिंह, अपर जिलाधिकारी संदीप कुमार गुप्ता, उप जिलाधिकारी अभय कुमार पाण्डेय, परियोजना निदेशक, जिला पंचायतराज अधिकारी, खण्ड विकास अधिकारी मसौली एवं जिले की महिला ग्राम प्रधानों पार्शद तथा स्थानीय निकाय की महिला जनप्रतिनिधि द्वारा प्रतिभाग किया गया।...

18 Oct 1K ने देखा
रिपोर्ट : अखिलेश सैनी
रिपोर्टर | बलिया
ई-ट्रेडिंग करने वालें तीन व्यापारियों को संयुक्त व्यापार समिति ने किया सम्मानित

ई-ट्रेडिंग करने वालें तीन व्यापारियों को संयुक्त व्यापार समिति ने किया सम्मानित...

बलिया। उत्तर प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी योजना ई-नाम दिवस पर रसड़ा कृषि उत्पानद मंडी समिति में पिछले दिनों  माह सितम्बर 2020 में सबसे अधिक ई-ट्रेडिंग करने वाले तीन व्यापारियों फरमान अली, अनवर अली तथा मु. युनुष को ई-नाम श्री उपाधि से नवाजे जाने के बाद रविवार को संयुक्त व्यापार संघर्ष समिति रसड़ा के अध्यक्ष सुरेशचंद्र के नेतृत्व में कृषि मंडी पहुंचकर उक्त तीनों व्यापारियों को सम्मान पत्र प्रदान कर फूल-मालाओं से सम्मानित किया। इस मौके पर सुरेशचंद्र ने कहा कि उप्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजना ई-ट्रेडिंग के माध्यम से जो इन व्यापारियों को सम्मानित किया गया है उससे अन्य व्यापारियों को प्रेरणा मिलेगी तथा यह व्यापारियों के लिए गौरव की बात है। इस मौके पर महामंत्री विनोद कुमार शर्मा, गोपाल जी गुप्ता, मुख्तार अहमद, उर्फ नाटे भाई फल एवं सब्जी व्यापार मंडल, शौकत अली, अरमान अली, वकील अहमद आदि उपस्थित रहे।...

18 Oct 1K ने देखा
रिपोर्ट : आसिम अली
सहसवान | बदायूं
मिशन शक्ति के अंतर्गत निकाली गई जागरूकता रैली

मिशन शक्ति के अंतर्गत निकाली गई जागरूकता रैली...

बदायूं ज़िले के खितौरा में परिषदीय विद्यालयों में "मिशन शक्ति" के लिए की जागरुक्ता रैली निकाली गई । महिलाओं तथा बालिकाओं की सुरक्षा सम्मान एवं स्वावलंबन के लिए उत्तर प्रदेश शासन ने एक व्यापक कार्य योजना बनायी है जो कि शारदीय नवरात्र से वासन्तिक नवरात्र के मध्य यानि 17-10-2020 से 22अप्रैल 2021 तक , 180 दिन) " मिशन शक्ति " अभियान संचालित किये जाने का निर्णय लिया है।" मिशन शक्ति " के अंतर्गत शासन के निर्देशानुसार बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में जागरुकता रैली का आयोजन किया गया । इस क्रम उ. प्रा.वि. हरदत्तपुर पर मिशन शक्ति के लिए रैली का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में गांव की बालिकाओं / छात्राओं तथा महिलाओं ने सोशल डिस्टेंसिंग कि पूर्ण पालन करते हुए कार्येक्रम में सहभागिता की । इस अवसर पर विद्यालय के प्रधानाध्यापक इक़बाल अहमद ने अपने संबोधन में उपस्थित बालिकाओं और महिलाओं को मिशन शक्ति के उद्देश्यों को विस्तार से बताया । इस मौके पर विद्यालय परिवार से मोहम्मद उमम ममता कुमारी अजीत सिंह मिथलेश कुमारी आदि का विशेष सहयोग रहा।...

17 Oct 821 ने देखा
रिपोर्ट : अखिलेश सैनी
रिपोर्टर | बलिया
कृषक व व्यापारी ई- नाम श्री उपाधि से किए गए सम्मानित

कृषक व व्यापारी ई- नाम श्री उपाधि से किए गए सम्मानित...

बलिया। भारत सरकार व उत्तर प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी योजना ई-नाम दिवस पर स्थानीय कृषि उत्पानद मंडी समिति परिसर में सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। जिसमें माह सितम्बर 2020 में सबसे अधिक ई-ट्रेडिंग करने वाले तीन कृषकों श्रीराम वर्मा, विजेंद्र व रितेश पांडेय व तीन व्यापारियों फरमान अली, मुख्तार अहमद उर्फ नाटे भाई तथा मु. युनुष को ई-नाम कृषक श्री तथा ई-नाम श्री उपाधिक से सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि उपजिलाधिकारी मोतीलाल यादव ने कृषकों को प्रशस्ति पत्र व अंगवस्त्रम प्रदान कर सम्मानित किया। इस मौके पर उपजिलाधिकारी ने कहा कि कृषक व व्यापारी भारतीय अर्थ व्यवस्था के रीढ़ हैं और उनके समुचित प्रयास के बगैर सशक्त भारत की संकल्पना नहीं की सकती है। उन्होंने  कृषकों से अधिक से अधिक कृषि उत्पादन बढ़ाने का आह्वान किया। कार्यक्रम में आकाश ई-नाम एनालिस्ट रसड़ा द्वारा इस संबंध में विविध जानकारियां दी गई।...

15 Oct 1K ने देखा
रिपोर्ट : स्निग्धा श्रीवास्तव
प्रोड्यूसर | नोएडा
पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद को रेप मामले में मिली राहत, कोर्ट में बयान से मुकरी छात्रा

पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद को रेप मामले में मिली राहत, कोर्ट में बयान से मुकरी छात्रा...

नई दिल्ली। भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय गृह राज्य मंत्री स्वामी चिन्मयानंद पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली कानून की छात्रा मंगलवार को विशेष एमपी-एमएलए अदालत में अपना बयान बदल दिया। छात्रा विशेष अदालत में सुनवाई के दौरान अपना बयान देने के लिए उपस्थित हुई। छात्रा ने बयान में कहा कि उसने पूर्व मंत्री पर ऐसा कोई इल्जाम नहीं लगाया जिसे अभियोजन पक्ष आरोप के तौर पर पेश कर रहा है। इससे नाराज अभियोजन पक्ष ने आरोपों से मुकरने पर छात्रा के खिलाफ कार्रवाई के लिए अपराध प्रक्रिया संहिता की धारा 340 के तहत तुरंत अर्जी दाखिल की। न्यायाधीश पीके राय ने अपने कार्यालय को वह याचिका पंजीकृत करने के निर्देश दिए और अभियोजन पक्ष से कहा कि वह अर्जी की एक प्रति पीड़ित पक्ष और अभियुक्त पक्ष को उपलब्ध कराए। अदालत ने मामले की अगली सुनवाई के लिए 15 अक्टूबर की तारीख तय की है। ज्ञात हो कि विधि छात्रा ने 5 सितंबर 2019 को नई दिल्ली के लोधी कॉलोनी थाने में मुकदमा दर्ज कराया था जिसमें उसने स्वामी चिन्मयानंद पर बलात्कार का आरोप लगाया था। इसके अलावा उसके पिता ने भी शाहजहांपुर में एक प्राथमिकी पंजीकृत कराई थी।...

14 Oct 2K ने देखा
रिपोर्ट : स्निग्धा श्रीवास्तव
प्रोड्यूसर | नोएडा
सावधान! कोरोना से ठीक होने के बाद भी दोबार हो सकता है कोरोना, आईएमसीआर ने दी चेतावनी

सावधान! कोरोना से ठीक होने के बाद भी दोबार हो सकता है कोरोना, आईएमसीआर ने दी चेतावनी...

नई दिल्ली। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद ने कहा कि देश में कोरोना वायरस से दोबारा संक्रमण के तीन मामले मिले हैं। इनमें से दो केस मुंबई और अहमदाबाद में एक केस सामने आया है। आइसीएमआर के महानिदेशक बलराम भार्गव ने बताया कि दोबारा संक्रमित होने की समय सीमा 100 दिन तय की गई है। कई अध्ययनों में भी यह सामने आया है कि एक बार संक्रमित होने वाले व्यक्ति के शरीर में आमतौर पर चार महीने तक एंटीबॉडीज मौजूद रहती है। इसके आगे उन्होंने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन की तरफ से हमें कुछ डाटा मिला है, जिसमें दुनियाभर में दोबारा संक्रमण के दो दर्जन मामलों का जिक्र है। दोबारा संक्रमित होने वाले लोगों से टेलीफोन पर बात कर कुछ डाटा एकत्र करने की कोशिश की जा रही है। डब्ल्यूएचओ ने भी अभी तक यह नहीं बताया कि कोई व्यक्ति 90 दिन, 100 दिन या 110 दिन बाद दोबारा संक्रमित हो सकता है। लेकिन अब सरकार ने इसकी समय सीमा 100 दिन तय कर दी है। इसके मुताबिक 100 दिन बाद दोबारा संक्रमित होने का खतरा है।...

14 Oct 2K ने देखा
रिपोर्ट : समाचार TODAY
Official | गौतम बुद्ध नगर/नोएडा
सीमा पर बने 43 पुलों को लेकर बोले सीमा सड़क संगठन के महानिदेशक

सीमा पर बने 43 पुलों को लेकर बोले सीमा सड़क संगठन के महानिदेशक...

खबर राजधानी दिल्ली से है जहां, सीमा सड़क संगठन के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल हरपाल सिंह ने बताया कि हमने अस्थायी पुलों को स्थायी पुलों में बदलने का काम किया है। इस साल हम अपनी क्षमता से तीन गुना अधिक जा रहे हैं। ये आर्थिक विकास, बुनियादी ढांचे के विकास, पर्यटन, और हमारी सामरिक ताकतों के तेजी से आंदोलन में मदद करेगा। दरअसल.... सीमा पर भारतीय सेना के बुनियादी ढांचे को मजबूत करने के लिए रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने 43 पुलों को देश को समर्पित किया। सीमा सड़क संगठन द्वारा 7 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में इन पुलों को बनाया है। 286 करोड़ रुपये की लागत से तैयार इन पुलों का निर्माण हिमाचल प्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड, अरुणाचल प्रदेश, सिक्किम और केंद्र शासित प्रदेशों जम्मू कश्मीर और लद्दाख में किया गया है।...

13 Oct 2K ने देखा
रिपोर्ट : आसिम अली
सहसवान | बदायूं
राष्ट्रीय सूचना अधिकार दिवस पर प्रांतीय सूचना कार्यकर्ता सम्मेलन का आयोजन

राष्ट्रीय सूचना अधिकार दिवस पर प्रांतीय सूचना कार्यकर्ता सम्मेलन का आयोजन...

बदायूं। भ्रष्टाचार मुक्ति अभियान के तत्त्वावधान में राष्ट्रीय सूचना अधिकार दिवस के अवसर पर तृतीय प्रांतीय सूचना कार्यकर्ता सम्मेलन का आयोजन कोविड 19 की गाइडलाइन के अधीन नगला मंदिर सभागार में अभियान के मार्गदर्शक एस सी गुप्ता की अध्यक्षता में किया गया। सम्मेलन में जनपद बदायूं के प्रमुख़ सूचना कार्यकर्ताओं की उपस्थिति रही। अन्य जनपदों के कार्यकर्ताओं की सम्मेलन में ऑनलाइन भागीदारी रही। सम्मेलन का सोसल मीडिया के विभिन्न माध्यमों से प्रसारण किया गया। सर्वप्रथम अभियान के सहयोगी एम एच कादरी व वीरेंद्र कुमार द्वारा राष्ट्र राग "" रघुपति राघव राजाराम "" का सामुहिक कीर्तन कराया गया, एम एल गुप्ता द्वारा ध्येय गीत प्रस्तुत किया गया। तदन्तर अतिथिगण द्वारा राष्ट्र पिता महात्मा गांधी के चित्र पर माल्यार्पण किया गया। कार्यक्रम के आरम्भ में जिला समन्वयक रामगोपाल द्वारा वर्ष भर की प्रगति आख्या प्रस्तुत की गई।सूचना कार्यकर्ता महासम्मान रामगोपाल एवं सतेंद्र सिंह को प्रदान किया गया।अभियान में सक्रिय भागीदारी के लिए एम एल गुप्ता, महेश चंद्र, आर्येन्दर पाल सिंह, अखिलेश सोलंकी, असद अहमद औऱ नारद सिंह को सम्मानित किया गया। जनपद के वरिष्ठतम पत्रकार सुशील धींगड़ा, आजीवन वृक्षारोपण का संकल्प ले चुके गुप्ता दम्पत्ति सुनील गुप्ता व सोनिका गुप्ता, घायल पशु पक्षियों की सेवा करने वाले विकेंद्र शर्मा, आपदकाल में उल्लेखनीय सेवा कार्य करने वाले अभय प्रताप सिंह, एन एस एस की छात्रायें अभिलाषा यादव, कु समीक्षा, सेजल सिंह, संघमित्रा, नेहा शाक्य, साक्षी यादव व अरुण सिसोदिया को विशिष्ट सम्मान प्रदान किया गया। सम्मेलन में सूचना का अधिकार अधिनियम में संशोधन करके आवेदन करने से लेकर द्वितीय अपील के निस्तारण की अधिकतम अवधि तीन माह निर्धारित करने, आवेदन का निस्तारण न करने वाले लोक सूचना अधिकारी के विरुद्ध अभियोग पंजीकृत कराने, अधिकारियों, कर्मचारियों की संपत्तियों का विवरण धारा चार के अंतर्गत सार्वजनिक करने, आयुक्त के पद पर उच्च औऱ उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश को अनिवार्य रूप से नियुक्त करने, सूचना कार्यकर्ताओं की सुरक्षा के उपाय करने, अनहोनी होने पर एक करोड़ रुपये का मुआवजा देने व सरकारी नौकरी देने एवम लोक सूचना अधिकारी पर लगने वाले जुर्माना की राशि आवेदक को दिये जाने की मांग को लेकर प्रस्ताव पारित किया गया जो देश के राष्ट्रपति को उचित माध्यम से प्रेषित किया जाएगा । अतिथि गण द्वारा संगठन के पत्रक का विमोचन भी किया गया। अभियान के मुख्य प्रवर्तक द्वारा रामगोपाल को केंद्रीय कार्यालय प्रभारी, एम एच क़ादरी को जिला समन्वयक, अभय माहेश्वरी को सह जिला समन्वयक, आर्येन्दर पाल सिंह को तहसील समन्वयक सहसवान, महेश चंद्र , विपिन कुमार सिंह को सह तहसील समन्वयक की जिम्मेदारी सौंपी गई। सम्मेलन में देश के ख्याति लब्ध सूचना कार्यकर्ता व पूर्व आई पी एस अधिकारी शैलेन्द्र सिंह तथा नेशनल मीडिया कॉउंसिल के अध्यक्ष नीरज राठौड़ का ऑनलाइन मार्गदर्शन प्राप्त हुआ। राजकीय स्नात्तकोत्तर महाविद्यालय बदायूँ के राजनीति शास्त्र विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ राकेश कुमार जायसवाल ने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि वर्तमान समय में महात्मा गांधी के विचारों का अनुसरण सम्पूर्ण विश्व कर रहा है। राष्ट्र पिता ने हमे जो सत्य अहिंसा का मार्ग दिखाया तथा संघर्ष के लिए सत्याग्रह का पथ सृजित किया, उस मार्ग पर चलने से ही हमे व्यवस्था सुधार का लक्ष्य प्राप्त होगा। भ्रष्टाचार मुक्ति अभियान के कार्यकर्ता राष्ट्रपिता के दिखाए पथ पर चल रहे हैं, उनके विचार को आगे बढ़ा रहे हैं, यह राष्ट्रपिता के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि है। मुख्य वक्ता के रूप में विचार व्यक्त करते हुए अभियान के मुख्य प्रवर्तक हरि प्रताप सिंह राठोड़ एडवोकेट ने कहा कि व्यवस्था सुधार मिशन के लिए आवश्यक है कि हम सबको जनोपयोगी कानूनों सूचना का अधिकार, जनहित गारंटी कानून, पंचायत राज व्यवस्था के साथ ही उपयोगी पोर्टल औऱ ऐप का ज्ञान होना आवश्यक है।जनोपयोगी ऐप औऱ पोर्टल के माध्यम से लोक कल्याण का एक विषय प्रति सप्ताह उठाने की प्रवृत्ति विकसित करनी चाहिए। प्रति माह चार सूचनाएं मांगना भी आवश्यक है।प्रति वर्ष एक खादी का वस्त्र खरीदे, आजीवन हिंदी में ही हस्ताक्षर करने का संकल्प लें, व्यवस्था सुधार मिशन की कार्य प्रणाली को भलीभांति समझकर अन्य नागरिकों को भी प्रशिक्षित करने का कार्य करे। पंचायत चुनाव में सूचना कार्यकर्ताओं की महत्वपूर्ण भूमिका रहने वाली है। हमें गांव गांव जाकर जनजागरण करना है कि शिक्षित प्रतिनिधि का चुनाव हो, मताधिकार का किसी भी स्थिति में विक्रय न हो आदर्श जनप्रतिनिधियों का निर्वाचन हो सूचना अधिकार अधिनियम को व्यावहारिक बनाने के लिए आज कुछ प्रस्ताव पारित किये गए हैं उन्हें उचित माध्यम से जिम्मेदारो तक पहुँचाया जायेगा।जब तक हमारा व्यवस्था सुधार का मिशन पूरा नहीं होगा हम निरंतर महात्मा गांधी के पथ पर चलकर प्रयास करते रहेंगे अतिथि वक्ता के रूप में राणाप्रताप सिंह ने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि सभी कार्यकर्ता अपने मिशन में तकनीक को हथियार बनाये, तकनीक के प्रयोग से हम भ्रष्टाचार पर बड़ी चोट कर सकते हैं। व्यवस्था सुधार मिशन के लिए समर्पण और अनुशासन अति आवश्यक है, जो कार्यक्रम में उपस्थित हर कार्यकर्ता में दिखायी दे रहा है। आप सब बधाई के पात्र हैं जो कि महान उद्देश्य को लेकर सतत प्रयत्नशील है। सम्मेलन में डॉ सुशील कुमार सिंह, रामलखन, असद अहमद, आकाश तोमर, अभय माहेश्वरी, देवेश शंखधार ने भी विचार व्यक्त किए। क्रम का संचालन षत्वदन शंखधार ने किया तथा आयोजक मंडल के सदस्य अखिलेश सिंह ने सभी का आभार व्यक्त किया।...

13 Oct 393 ने देखा
रिपोर्ट : अखिलेश सैनी
रिपोर्टर | बलिया
नगरपालिका के घोर लापरवाही से बैंक शाखा के बाहर लगा कूड़े का अम्बार,शिकायत के बाद भी नहीं हटा कूड़ा

नगरपालिका के घोर लापरवाही से बैंक शाखा के बाहर लगा कूड़े का अम्बार,शिकायत के बाद भी नहीं हटा कूड़ा...

बलिया। रसड़ा स्थित आदर्श नगरपालिका की कारस्तानी का नजारा रसड़ा के बैंक ऑफ बड़ौदा शाखा पर देखने को मिल रहा है। जहां पालिका द्वारा लगाए गए कूड़ा बॉक्स से कूड़ा न हटाये जाने के कारण यहां लोगो का सांस लेना दूभर हो गया है। वही संक्रामक बीमारी फैलने की भी संभावना प्रबल हो गई है। बताते हैं कि यहां इस शाखा के अलावा कई बैंक एलआईसी आदि कार्यालय होने के कारण यहां बैंक ऑफ बड़ौदा शाखा के सटे नगर पालिका द्वारा कूड़े का बड़ा बॉक्स रखा गया है। जिसमे काफी दिनों से सफाई न होने के कारण कूड़े के सड़ने से दुर्गंध के कारण लोंगो को भारी परेशानी हो रही है। हालांकि की बैंक प्रशासन द्वारा इस दिशा में पालिका प्रशासन को पत्र भी दिया है किन्तु कूड़ा नहीं हटाया गया है। इस सम्बंद में बैंक ग्राहकों व प्रबंधन ने जिला व मण्डल प्रशासन से जांच कर कार्यवाही करने की मांग की है।...

13 Oct 168 ने देखा
रिपोर्ट : स्निग्धा श्रीवास्तव
प्रोड्यूसर | नोएडा
कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप को देख चिंतित पीएम मोदी ने कही यें बाते

कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप को देख चिंतित पीएम मोदी ने कही यें बाते...

नई दिल्ली। भारत में अनलॉक होते ही कोरोना का प्रकोप तेजी से बढ़ता जा रहा है। आगामी त्योहारों में कोरोना के मामले और भी ज्यादा हो सकते है इसलिए जनता को कुछ बातों का ध्यान रखना होगा जिससे वे कोरोना के प्रकोप से अपनी देखभाल कर सके और बचे रहे। इसको ध्यान में रखते हुए पीएम मोदी ने गुरुवार को कोविड-19 से निपटने के लिए ट्वीट कर लोगों से आग्रह किया कि जब तक कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए कोई टीका नहीं बन जाता तब तक उन्हें हर सावधानी बरतनी है और तनिक भी ढिलाई नहीं करनी है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से बचें। हाथ धोएं बार-बार। सही से मास्क पहनें। निभाएं दो गज की दूरी। जब तक दवाई नहीं, तब तक ढिलाई नहीं।' इसके साथ ही मोदी ने कोरोना वायरस से बचाव संबंधी संदेशों के साथ तस्वीरें भी साझा कीं। इनमें वह खुद गमछा लपेटे हुए हैं और हाथ जोड़कर लोगों से बचाव का आग्रह करते दिख रहे हैं। अभियान को धार देने के लिए उन्होंने 'यूनाइट टू फाइट कोरोना' हैशटैग का भी उपयोग किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि हम सब मिलकर कोरोना वायरस के खिलाफ सफलता हासिल करेंगे और इस लड़ाई को जीतेंगे। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के खिलाफ भारत की लड़ाई लोगों द्वारा लड़ी जा रही है जिसे कोरोना योद्धाओं से मजबूती मिली है। उन्होंने कहा, 'हमारे सामूहिक प्रयासों ने कई जिंदगियां बचाने में मदद की है। हमें इस गति को बरकरार रखना है और इस वायरस से नागरिकों की रक्षा करनी है।' बता दें कि बुधवार रात तक जारी आंकड़ों के अनुसार देश में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 68 लाख के पार चली गई।...

8 Oct 3K ने देखा
रिपोर्ट : स्निग्धा श्रीवास्तव
प्रोड्यूसर | नोएडा
जम्मू-कश्मीर में आतंकी मुठभेड़, भारतीय सुरक्षाबलों ने तीन आतंककियों को मारा

जम्मू-कश्मीर में आतंकी मुठभेड़, भारतीय सुरक्षाबलों ने तीन आतंककियों को मारा...

जम्मू-कश्मीर स्थित शोपियां में सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हो रही है। शोपियां के सुजान जैनापोरा इलाके में इस मुठभेड़ में भारतीय सुरक्षाबलों ने तीन आतंकी मार गिराए गए। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने बताया कि शोपियां के सुजान इलाके में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए। ऑपरेशन अभी भी चल रहा है। जानकारी के मुताबिक कल शाम से ही यह ऑपरेशन चल रहा था। मारे गए तीन आतंकियों में 1 टॉप कमांडर है। सुरक्षा बलों को अब तक दो शव बरामद हुए हैं। पुलिस प्रवक्ता ने कहा कि सुरक्षा बलों ने शोपियां जिले के ज़ैनपोरा इलाके में सुगन गांव में आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना के बाद तलाशी अभियान चलाया। इस दौरान आतंकवादियों ने गोलाबारी की और सुरक्षा बलों ने जवाबी कार्रवाई की जिसके बाद एनकाउंटर शुरु हुआ।...

7 Oct 1K ने देखा
रिपोर्ट : अरविंद चौहान
गंगोह | सहारनपुर
नहीं रहे पूर्व केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री काजी रशीद मसूद!

नहीं रहे पूर्व केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री काजी रशीद मसूद!...

सहारनपुर। बेहद गमगीन माहौल में पूर्व केन्द्रींय स्वास्थ्य राज्य मन्त्री काजी रशीद मसूद की पार्थिव शरीर को सुपुर्दे खाक कर दिया गया। उनके पैतृक आवास से निकले जनाजे को कंधा देने के लिए लोग बेहद लालायित रहे। बडे मदरसे वाली मस्जिद जदीद में नमाजे जनाजा अदा की गई। उसके बाद काजी रशीद मसूद की पार्थिव शरीर को उनके परिवारिक काजियों वाले कब्रिस्तान में सुपुर्दे खाक किया गया। जनाजा यात्रा में पूर्व राज्यमंत्री व सहारनपुर विधायक संजय गर्ग, पूर्व राज्यमंत्री उमर अली खान, असदुल्ला अजमेरी, सायान मसूद, सरफराज खान, विधायक नरेश सैनी, मसूद अख्तर, पूर्व विधायक इमरान मसूद, महीपाल माजरा, डॉ. सुशील चौधरी, नवाजिश आलम बुढाना, सांसद फजलुर्रहमान, बसपा कोर्डीनेटर जगपाल सिंह, मेयर संजीव वालिया, पूर्व सपा जिलाध्यक्ष जगपाल दास, रालोद प्रदेश महासचिव अयूब, पूर्व कांग्रेस जिलाध्यक्ष जावेद साबरी, शशि वालिया, जिला पंचायत सदस्य सलीम अख्तर, डायरैक्टर शुगर फैक्ट्री चरण सिंह, भाजपा प्रान्तीय परिषद सदस्य पदमसिंह ढायकी, रालोद प्रदेशमंत्री सलीम कुरैशी सहित बडी संख्या में वर्तमान व पूर्व सभासद व प्रधान और जिला पंचायत सदस्य शामिल रहे। एसडीएम हिमांशु नागपाल व सीओ चोब सिंह के अलावा बडी संख्या में पुलिस बल तैनात रहा। पूर्व केन्द्रीय स्वास्थ्य राज्य मन्त्री काजी रशीद मसूद के शोक में नगरपालिका परिषद ने शोक व्यक्त कर अवकाश किया, इसके अलावा अधिकांश बाजार व कई स्कूल बंद रहे। दिग्गज राजनेता काजी रशीद मसूद का आज सुबह निधन हो गया था। कई बीमारियों से जूझ रहे 73 साल के रशीद मसूद का रुड़की में इलाज चल रहा था। सोमवार सुबह 10 बजे के करीब उनका निधन हो गया। उनकी गिनती पश्चिमी उत्तर प्रदेश के दिग्गज राजनेताओं में होती थी। पांच दशकों के सियासी सफर में वह वीपी सिंह से लेकर मुलायम सिंह यादव के हमसफर रहे। वहीं, 2012 में वह कांग्रेस में भी शामिल हुए थे। रशीद मसूद कुल नौ बार संसद के सदस्य रहे। अपने लंबे राजनैतिक करियर में लोकसभा के साथ ही राज्यसभा के लिए भी वह निर्वाचित हुए थे। सोमवार को रुड़की के एक अस्पताल में इलाज के दौरान उनका निधन हो जाने से समर्थकों में गम की लहर दौड़ गई। रशीद मसूद हार्ट और किडनी जैसी कई बीमारियों से जूझ रहे थे। पैतृक निवास गंगोह में उन्हें सपुर्द-ए-खाक किया जाएगा। 1989 में केंद्र में वीपी सिंह के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय मोर्चा की सरकार में वह स्वास्थ्य मंत्री रहे थे। रशीद मसूद पहले से ही हृदय और किडनी की बीमारियों से पीडि़त थे। पिछले दिनों कोरोना पॉजिटिव होने की वजह से इलाज के लिए दिल्ली के अपोलो अस्पताल में उन्हें भर्ती कराया गया था। हाल ही में कोरोना से ठीक होने के बाद रशीद मसूद की दो दिन पहले तबीयत बिगड़ गई थी। उन्हें रुड़की स्थित अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया था। उनके निधन पर समर्थकों में शोक की लहर है और सियासी पार्टियों से शोक संवेदनाएं आ रही हैं। रशीद मसूद पांच बार लोकसभा सदस्य होने के साथ ही चार बार राज्यसभा के लिए भी निर्वाचित हुए। 2012 में यूपी विधानसभा चुनाव के बाद कांग्रेस ने उन्हें राज्यसभा भेजा। साथ ही केंद्रीय मंत्री का दर्जा देते हुए एपीडा का चेयरमैन बनाया था। उन्होंने पहला लोकसभा चुनाव इमरजेंसी के तुरंत बाद 1977 में लड़ा था। वह जनता पार्टी के टिकट पर चुनाव मैदान में उतरे और जीत हासिल की।इसके बाद वह जनता पार्टी (सेक्युलर) में शामिल हो गए। 1989 का चुनाव उन्होंने जनता दल से लड़ा और फिर जीत दर्ज की। इस दौरान वह 1990 और 91 में केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री भी रहे। 1994 में वह मुलायम के करीब आए और समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए। बाद में 1996 में उन्होंने इंडियन एकता पार्टी बनाई। 1989 का चुनाव उन्होंने जनता दल से लड़ा और फिर जीत दर्ज की। इस दौरान वह 1990 और 91 में केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री भी रहे। 1994 में वह मुलायम के करीब आए और समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए। बाद में 1996 में उन्होंने इंडियन एकता पार्टी बनाई। 2003 में एक बार फिर समाजवादी पार्टी का दामन थाम लिया। 2004 में उन्होंने एसपी के टिकट पर लोकसभा चुनाव लड़ा और जीते।2012 यूपी विधानसभा चुनाव से ठीक पहले वह कांग्रेस में आ गए। बतौर स्वास्थ्य मंत्री के कार्यकाल में उन पर गड़बड़ी का आरोप लगा था। एमबीबीएस ऐडमिशन धांधली के मामले में सजा होने पर जेल गए और राज्यसभा की सदस्यता भी खोनी पड़ी थी। वहीं 1996, 1998, 99 और 2009 के लोकसभा चुनाव में उन्हें हार का भी सामना करना पड़ा।...

5 Oct 1K ने देखा

© COPYRIGHT Samachar Today 2019. ALL RIGHTS RESERVED. Designed By SVT India