देश का पहला 14 लेन एक्सप्रेस-वे, 27 मई को खोल दिया जाएगा पब्लिक के लिए

मेरठ से दिल्ली जाने वाले मुसाफिरों के लिए बड़ी खुशखबरी है. मेरठ दिल्ली एक्सप्रेस-वे के पहले चरण का काम पूरा हो चुका है. दो दिन बाद यानी 27 मई को यह एक्सप्रेस-वे पब्लिक के लिए खोल दिया जाएगा.

पीएम नरेंद्र मोदी इसका उद्घाटन करेंगे. इसे एनएच 24 से जोड़कर सीधे एनएच 58 से मिलाया गया है. उद्घाटन से पहले पीएम नरेंद्र मोदी दिल्ली के प्रगति मैदान से यूपी गेट तक रोड शो करेंगे. पीएम का रोड शो करीब 7 किलोमीटर लंबा होगा. पीएम खुली जीप में यह रोड शो करेंगे. इस एक्सप्रेस-वे के खुलने के बाद मात्र 45 मिनट में दिल्ली से मेरठ पहुंचने का सपना होगा साकार. खास बात यह है कि दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे भारत का पहला 14 लेन का एक्सप्रेस-वे है.

नैशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एनएचआईए) के अफसरों के मुताबिक, यह देश का पहला एक्सप्रेस वे है, जो 14 लेन का है। इसके दोनों ओर ढाई-ढाई मीटर का साइकल ट्रैक भी बनाया गया है। इस एक्सप्रेस वे की छह लाइनों के दोनों ओर चार-चार लेन का नैशनल हाइवे होगा। इन दोनों के बीच एंट्री और एग्जिट के कुछ पॉइंट्स भी बनाए गए हैं, ताकि अगर एक्सप्रेस वे से आते हुए कोई वाहन नैशनल हाइवे पर आना चाहे तो आ सकेगा। इसी तरह से नैशनल हाइवे से वह एक्सप्रेस वे में भी एंट्री कर सकेगा। 

इसी तरह से यूपी की ओर से हाइवे से दिल्ली आने वाले वाहनों को आईटीओ की ओर रिंग रोड पर मुड़ने के लिए जंक्शन पर इंतजार नहीं करना पड़ेगा। इसके लिए ‘एल’ टाइप फ्लाईओवर बनाया गया गया है। इससे यूपी की ओर से आकर प्रगति मैदान की तरफ रिंग रोड पर जाने वाले वाहन सीधे रिंग रोड पर उतर जाएंगे। इसी तरह से अगर वाहन सराय काले खां बस अड्डे की ओर से आकर इस एक्सप्रेस वे पर जाना चाहेंगे तो उन्हें भी सिग्नल पर रुकने की जरूरत नहीं होगी और वे बिना रुके राइट टर्न ले सकेंगे। इसी तरह से यूपी की ओर से आकर सराय काले खां की ओर जाने के लिए भी वाहन चालकों के लिए अलग लेन होगी। 

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे का दिल्ली में 8.7 किलोमीटर हिस्सा है, जबकि गाजियाबाद में 42 किलोमीटर का हिस्सा आता है. इसके बाद डासना के पास यह एक्सप्रेस-वे इस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे से मिल जाएगा. पहले दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन अप्रैल में होना था, लेकिन काम पूरा नहीं होने की वजह से इसे टाल दिया गया था. एक्सप्रेस-वे के उद्घाटन में पीएम मोदी के अलावा परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी, दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल समेत कई केंद्रीय मंत्री मौजूद रहेंगे. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को भी आमंत्रित किया जाएगा.

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com