डेविड कैमरन ने संसद सदस्‍यता से दिया इस्तीफा

ब्रिटेन के पूर्व प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने सोमवार को संसद से भी इस्तीफा देकर अपने राजनीतिक कॅरियर पर विराम लगा दिया। इससे पहले जनमत संग्रह में यूरोपीय संघ से अलग होने के फैसले के कुछ सप्ताह बाद ही उन्होंने प्रधानमंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया था।

गौरतलब है कि 23 जून के 'ब्रेक्जिट वोट' के बाद उन्होंने प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। वह साल 2001 से विटने सीट से सांसद थे। वह 2005 में कंजरवेटिव नेता बने और 2010 से 2016 तक छह साल प्रधानमंत्री रहे। 

वर्ष 2010 में सत्ता में आने वाले कैमरन ने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री थेरेसा मे को बता दिया है कि वह अब ऑक्सफोर्डशायर में अपने निर्वाचन क्षेत्र ‘विटनी’ का प्रतिनिधित्व नहीं करेंगे। उन्होंने कहा, मैंने लंबे समय तक इस बारे में सोचा और अंत में संसद के सदस्य के रुप में हटने का निर्णय लिया।

हालांकि उन्होंने शुरुआत में संकेत दिया था कि वह मे के नेतृत्व के तहत टोरी सांसद बने रहेंगे लेकिन अब उन्होंने इस भूमिका को छोड़ने का फैसला किया क्योंकि वह भटकाव टालना चाहते हैं। कैमरन ने एक बयान में कहा कि विटने में अब एक उपचुनाव होगा और वह कंजरवेटिव उम्मीदवार की जीत में मदद के लिए सब कुछ करेंगे। 

52 प्रतिशत ब्रिटिश जनता के ‘ब्रेग्जिट’ के पक्ष में मतदान करने के बाद 49 वर्षीय कैमरन ने जून में प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा देने की घोषणा की थी। वह ब्रिटेन के यूरोपीय संघ में बने रहने के समर्थक थे। प्रधानमंत्री पद से हटने के बाद कैमरन कई बार संसद में पीछे की सीटों पर बैठे। इससे पहले उन्होंने कहा था कि वर्ष 2020 के चुनाव तक वह अपना कार्यकाल पूरा करेंगे।

 

बहरहाल, यह साफ नहीं है कि कैमरन की आगे की क्या योजना है लेकिन उन्होंने कहा कि वह वेस्टमिंस्टर से बाहर के जीवन को लेकर आशावादी हैं लेकिन वह जन सेवा और देश की सेवा करते रहना चाहते हैं। 
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com