‘योगी जी मदद करो या फिर गद्दी छोड़ दो’, छात्रा ने लगाई मदद की गुहार, ये है वजह…

रिपोर्ट – विशाल शर्मा (मैनपुरी)

 उत्तर प्रदेश – योगी जी मदद करो या गद्दी छोड दो, बहुत परेशान हू,  गरीब हू मेरी कोई तो मदद करो, नही तो आत्महत्या कर लुंगी, ये शब्द छेड़छाड़ से परेशान एक बीए की छात्रा के है।  छात्रा ने अब न्याय के लिए मुख्यमंत्री से  गुहार लगाईं है।  पीड़िता ने बताया है कि आरोपी कई बार सरेराह  बहुत बेइज्जत कर चुका है अब छेड़खानी के भय से छात्रा बीए के पेपर भी देने नही जा सकी है।  

मामला मैनपुरी के थाना करहल के ऐमनपुर गांव का है।  गांव की रहने वाली शमां ने बताया कि गांव का ही रहने वाला चचेरा भाई रवि उसके साथ 4 साल से लगातार छेड़खानी करता चला आ रहा है। बदनामी के डर से उसने आज तक किसी को इस बात की जानकारी नही दी। छेड़खानी के भय से बीए की परीक्षा भी छोड़ दी। हरकते ज्यादा बढ़ जाने के बाद पुलिस में मामले की तहरीर की पर पुलिस ने पूरे मामले को बदलते हुए छेड़खानी के मामले को झगड़े में बदल दिया। पीड़ित ने मुख्यमंत्री से मदद की गुहार लगाई है उसने कहा है कि योगी जी मदद करें न तो गद्दी छोड़ दें। आरोपी के खिलाफ कार्यवाही नही की गई तो आत्महत्या कर लेगी। वहीं प्रशासन पूरे मामले को घुमाता नजर आ रहा है।  अधिकारी अलग अलग बयान भी देते नजर आ रहे है।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com