सावधान! सब्सिडी का पैसा एयरटेल मोबाइल के खाते में, सुनील भारती मित्तल के खिलाफ FIR दर्ज

बिहार के भोजपुर जिले में देश की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी एयरटेल के खिलाफ उपभोक्ता ने थाने में साइबर अपराध का मामला दर्ज कराया है। कंपनी के खिलाफ फ्रॉड का ऐसा आरोप लगाया गया है कि पुलिस के होश उड़ गये हैं।

Report: विक्रान्त राय

मामला एयरटेल पेमेंट बैंक में गैस सब्सिडी जमा होने का है। इसको लेकर बिहिया थाने में कंपनी के मालिक सुनील भारती मित्तल के खिलाफ़ गंभीर आरोप लगाते हुए उपभोक्ता ने प्राथमिकी दर्ज कराई है। मित्तल पर उपभोक्ता के पैसे गबन करने के साथ-साथ साइबर अपराधियों से सांठगांठ का भी आरोप लगाया गया है। इस संदर्भ में बताया जाता है कि बिहिया थाने के खरौली गांव निवासी व अधिवक्ता सत्यव्रत ने कंपनी पर आरोप लगाया है कि गलत तरीके से एयरटेल मनी बैंक में खाता खोल दिया गया। इसके बाद साइबर अपराधियों को इसकी जानकारी दी और उसके बैंक के खाते से रुपए की निकासी कर ली गई। उन्होंने कहा है कि पूछने पर भ्रामक जानकारियां दी जाती हैं। शिकायतकर्ता शाहपुर स्थित इण्डेन गैस एजेन्सी का उपभोक्ता है जहां से गैस सिलेण्डर उठाव के बाद सब्सिडी की राशि उसके आईसीआईसीआई बैंक के खाते में जाती थी। दो माह तक खाते में राशि नहीं जाने की स्थित में जब उसने एजेन्सी से शिकायत की तो उसे बताया गया कि उसके खाते की राशि उसके एयरटेल मोबाईल के खाते में जा रही है। प्राथमिकी में कहा गया है कि लगभग दो-तीन माह पूर्व ही उसने अपने मोबाईल नंबर को आधार नंबर से लिंक कराया था जिसके बाद से उसकी सब्सिडी की राशि बैंक खाते में नहीं जा रही थी। पीड़ित द्वारा जब  कस्टमर केयर से बात की तो राशि शीघ्र ही बैंक खाते में वापस करने की बात कही। इसके कुछ देर बाद एयरटेल बैंक का हवाला देते हुए फोन कर एक ओटीपी आने की बात कही जिसे बताने के बाद उसकी राशि को उसके बैंक खाते में भेज दिया जाएगा। जिसपर ग्राहक ने वैसा ही किया। लेकिन ग्राहक के पैरों तले जमीन उस वक्त खिशक गया जब उसके अकाउंट में पैसा आने के बजाए 878 रुपये काट लिए गए जिससे उपभोक्ता हैरान व परेशान हो गया। जिसको देख उपभोक्ता ने इसकी शिकायत तत्काल बिहिया थाना में की। फिलहाल इस मामले में पुलिस के आला अधिकारी चुप्पी साधे हुए हैं। जब इस बाबत बिहीयां थानाध्यक्ष से पूछा गया तो उन्होंने आला अधिकारियों का हवाला देते हुए कैमरे पर कुछ भी बताने से परहेज कर दिया।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com