दोस्त ने किया दोस्त का क़त्ल

बिजनौर (नईम अंसारी)

नापाक रिश्तों की ख़ातिर दोस्त ने ही दोस्त को मौत के घाट उतार डाला और लाश को सुनसान इलाके में फेंक दिया…ताकि पुलिस के हाथ उस तक न पहुंच सके…लेकिन आखिरकार शक के आधार पर हिरासत में लिए गए कातिलो ने पुलिस के सामने क़त्ल के सारे राज़ खोल दिये। खून से लथपथ जंगल में पड़ी ये लाश रेशपाल की है…रेशपाल की अज्ञात हत्यारों ने कुछ दिन पहले गला रेतकर हत्या कर दी थी…मृतक की पत्नी की तहरीर के आधार पर पुलिस छानबीन में जुट गई। पुलिस के पास कोई सुराग नहीं था…लिहाजा उसके सामने कातिलों को ढूंढने की चुनौती थी। लेकिन जब शक के आधार पर पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में लिया…और फिर जब उनसे पूछताछ की तो कत्ल के सारे राज खुल गए…जिसे सुनकर पुलिस के भी होश उड़ गए।

अब जरा पुलिस के हत्थे चढ़े इन क़ातिलों को भी देख लीजिए…कातिल बेहद ही योजनाबद्ध और सुनियोजित तरीके से रेशपाल को बहाने से जंगल बुलाकर ले गए…और वहां गला रेतकर उसकी हत्या कर दी। कत्ल की वजह वही पुरानी…पैसा और अवैध सम्बन्ध…कातिलों के रेशपाल की बीबी से अवैध संबंध थे…साथ ही, रुपये के लेन-देन को लेकर भी इनमें आपस में विवाद था…पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है…जबकि दो आरोपी अभी भी फरार है…पुलिस उनकी तलाश कर रही है।

पुरानी कहावत है…दुनिया के तमाम झगड़ों की वजह जर, जोरू और जमीन है…बिजनौर में भी ये कहावत सच निकली…जर…जोरू के लफड़े ने रेशपाल की जान ले ली…वैसे कातिलों ने चाल तो खूब अच्छी चली थी..खुद को कानून के शिकंजे से बचाने की भरसक कोशिश भी की थी…लेकिन कहते हैं कि कानून के लंबे हाथों से वे बच नहीं पाए और जेल की सलाखों के पीछे पहुंच गए

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com