2019 में भी केंद्र में बनेगी एनडीए की सरकार :अनुप्रिया पटेल

पहले गोरखपुरफूलपुर और फिर कैरानानूरपुर उपचुनाव में मिली हार के बाद बीजेपी अपनों के ही निशाने पर है। इन सबके बीच बीजेपी के लिए थोड़ी बहुत राहत भरी खबर अपना दल की ओर से आई है। कन्नौज में अपना दल के जिला कार्यालय का उद्घाटन करने पहुंची केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल ने कहा कि उनकी पार्टी 2014 में भी एनडीए के साथ थी, 2017 में भी  साथ रही, आज भी  साथ है और भविष्य में भी एनडीए के साथ रहेगी। पटेल ने दावा या कि 2019 में भी पीएम मोदी  की अगुवाई में केंद्र में एनडीए की रकार बनेगी। अनुप्रिया ने कहा कि कैराना और नूरपुर में कुछ स्थानीय मुद्दों पर ज़रूर कुछ चूक हुई। यही कारम है कि वहां उप चुनाव में अच्छे नतीजे नहीं मिले। लेकिन उन्हें पूरा विश्वास है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की जन कल्याणकारी नीतियों के कारण देश की जनता का भरोसा एनडीए पर बढ़ा है और 2019 में देश की जनता एक बार फिर एनडीए की सरकार को बहुमत देगी। वहीं, इस मौके पर अपना दल के विधान पार्षद आशीष पटेल ने कहा कि उनकी पार्टी की सरकार से कुछ मांगें हैं और सुझाव भी है। सुझाव सहयोगी होने के नाते और मांगें राजनीतिक दल होने के नाते। उन्होंने कहा कि प्रदेश में जितने भी थाने हैं उनमें से 50 फीसदी थानेदार और इंस्पेक्टर के पद दलित और पिछडा वर्ग के लिए आरक्षित किए जाएं। आशीष ने कहा कि किसी भी जनपद में दो पद बेहद अहम होते हैं। जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक का पद। इनमें से कम से कम एक पद दलित या ओबीसी के लिये आरक्षित किया जाए। यानी किसी भी जिले में डीएम या एसपी का पद दलित या ओबीसी के लिए अनिवार्य रूप से आरक्षित किया जाए।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com