हापुड़ मॉब लिंचिंग: SC ने सरकार को भेजा नोटिस, यूपी पुलिस से भी मांगा जवाब

रिपोर्ट – आलम वारसी

Edit By – अनुज पांचाल

उत्तर प्रदेश – हापुड़ में 18 जुलाई को हुए मॉब लिंचिंग मामले में दाखिल याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने यूपी सरकार और यूपी पुलिस से जवाब मांगा है। कोर्ट ने मेरठ के आईजी को मामले की छानबीन कर दो हफ्ते में सुप्रीम कोर्ट में रिपोर्ट पेश करने का निर्देश दिया है। मामले की सुनवाई अब 28 अगस्त को होगी। याचिका भीड़ के हमले में घायल हुए समिउद्दीन की ओर से दायर की गई है। सुनवाई के दौरान चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा, जस्टिस एएम खानविलकर और जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ की बेंच ने याचिकाकर्ता और उसके परिवार को सुरक्षा देने के लिये भी कहा है। समिउद्दीन ने अपनी याचिका में मामले की कोर्ट की निगरानी में SIT से जांच कराने, आरोपियों की जमानत रद करने और केस का ट्रायल उत्तर प्रदेश से बाहर करवाने की मांग की है। सुप्रीम कोर्ट ने IG को कहा है कि वो याचिकाकर्ता के बयान मजिस्ट्रेट के पास दर्ज करान के लिये उचित कार्रवाई करें। आपको बता दें  पुलिस एफआइआर में इसे रोड रेज का मामला बताया गया था। आरोप यह भी है कि स्थानीय  पुलिस सुप्रीम कोर्ट द्वारा उन्मादी भीड़ केस में जारी दिशा निर्देशों का पालन नहीं कर रही है। पुलिस एफआइआर को रोड रेज का मामला बना कर केस दर्ज कर रही है। यहा तक कि पुलिस ने अभी तक समिउद्दीन का बयान भी दर्ज नहीं किया है। आपको बता दें कि 18 जुलाई को कासिब और समिउद्दीन साथ में जा रहे थे। लेकिन हापुड़ में लोगों ने उन पर गोकशी का आरोप लगाते हुए कथित तौर पर उनकी बुरी तरह से पिटाई की थी..इसमें कासिम की मौत हो गई थी। जबकि समिउद्दीन गंभीर रूप से घायल हो गया था।

 

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com