कश्मीर मुद्दे पर बोले मोदी कहा – ‘जिन हाथो में लैपटॉप होना चाहिए, उनमें पत्थर हैं’

मध्यप्रदेश के अलीराजपुर जिले में स्थित महान स्वतंत्रता सेनानी चंद्रशेखर आजाद की जन्मस्थली भाबरा (आजाद नगर) में आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहुंचे। उन्होंने यहां झोतराड़ा गांव के पास एक जनसभा को संबोधित किया।  इस दौरान पीएम मोदी ने कश्मीर में हो रहे उपद्रव-प्रदर्शन के बाद पहली बार इसे लेकर अपनी बात रखी। मोदी ने कहा कि हमारा कश्मीर हमारे देश के लिए स्वर्ग है। हर देशवासी एक न एक बार कश्मीर जाना चाहता है। पूरा देश कश्मीर से प्यार करता है। वहीं कुछ मुट्ठीभर लोग, गुमराह हुए कुछ लोग, कश्मीर की इस महान परंपरा को कहीं न कहीं ठेस पहुंचा रहे हैं। जब अटल जी देश के पीएम थे तो उन्होंने जो मार्ग अपनाया था, इंसानियत, कश्मीरियत और जम्हूरियत का उसी पर हम लोग आगे बढ़ेंगे।

कश्मीरी भाइयों से बोलूंगा कि जो आजादी के दीवानों ने देश को दी वही हर कश्मीरी को भी मिले। हम कश्मीर को विकास की नई ऊंचाईयों पर ले जाना चाहते हैं और एक नई ताकत देना चाहते हैं। कश्मीरी सरकार को बधाई देता हूं कि कुछ लोगों की हरकतों के बावजूद लगातार अमरनाथ यात्रा चल रही है और लाखों लोग दर्शन कर रहे हैं। कश्मीरी युवकों को आह्वान करता हूं कि मेरे दोस्तों आओ, हम सब मिलकर कश्मीर को दुनिया का स्वर्ग बनाएं।

कभी-कभी पीड़ा होती है कि जिन हाथों में लैपटॉप, बॉल, बैट होने चाहिए, किताबें होनी चाहिए और सपने होने चाहिए आज उन निर्दोष बच्चों के हाथ में पत्थर पकड़ाए जाते हैं। कुछ लोगों की राजनीति तो इससे चल जाएगी लेकिन इन बच्चों का क्या होगा। इसलिए इन बच्चों को, कश्मीरियत को, जम्हूरियत को चोट पहुंचाने नहीं दी जाएगी।

जनसभा को संबोधित करने के बाद वह अपराह्न् 2. 50 बजे कटेरी हेलीपैड पहुंचेंगे, जहां से वह हेलीकॉप्टर से इंदौर रवाना होंगे। प्रधानमंत्री इंदौर से सायं 4.10 बजे विमान से नई दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे।इससे पहले उन्होंने आजाद स्मारक का अवलोकन किया और आजाद की प्रतिमा पर श्रद्घासुमन अर्पित किए। मोदी देश के पहले प्रधानमंत्री हैं, जिन्होंने आजाद की जन्मस्थली का दौरा किया है। मोदी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ स्मारक का अवलोकन किया, स्मारक में मौजूद छायाचित्र देखें और आजाद की जीवन गाथा के बारे में जानकारी ली।

प्रधानमंत्री ने यहां स्थापित आजाद की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर महान स्वतंत्रता सेनानी को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्होंने आजाद की आदमकद प्रतिमा के साथ तस्वीर भी खिंचवाई। मोदी यहां आजादी के 70वें साल के मौके पर आयोजित ’70 साल आजादी, याद करो कुर्बानी’ कार्यक्रम की शुरुआत की। आयोजन को सफल बनाने के लिए सरकार और भारतीय जनता पार्टी ने पूरी तैयारियां कर रखी है। सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं, मगर बीते दो दिनों से यहां जारी बारिश के कारण जगह-जगह कीचड़ है। इस कारण भाबरा और फिर सभास्थल तक पहुंचने में लोगों को परेशानी हो रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com