अमरीका में भगवान गणेश को लेकर छिड़ा विवाद

भारत में गणेश उत्सव की धूम चल रही है वही अमरीका में भगवान गणेश को लेकर विवाद छिड़ गया है.टेक्सास के एक स्थानीय अखबार में रिपब्लिकन पार्टी के दिए गए एड में भगवान गणेश की तस्वीर छापने पर विवाद शुरू हो गया है. ज़ोमैटो कंपनी के बनाए गए इस एड में भगवान गणेश के शरीर को लेकर कई खासियत लिखी हैं लेकिन उसके नीचे लिखे कैप्शन पर विवाद हो रहा है. कैप्शन में लिखा है, ‘क्या आप एक गधे की या फिर हाथी की पूजा करेंगे? पसंद आपकी.’ सोशल मीडिया पर इसे लेकर खासा विवाद हो रहा है.

अमरीका के टेक्सास में रहने वाले हिंदुओं का कहना है कि वहां की राजनीतिक पार्टी ने उनके भगवान का मजाक़ बनाया है.उस विज्ञापन में यह पूछा गया है कि "आप गधे की पूजा करेंगे या हाथी की? चुनना आपको है." रिपब्लिकन पार्टी का चुनाव चिह्न हाथी है जबकि उनके प्रतिद्वंदी पार्टी डेमोक्रेटिक का गधा.

हिंदू अमेरिकन फाउंडेशन (एचएएफ) ने कहा कि हम पार्टी द्वारा हिंदुओं के त्योहार के सहारे हिंदुओं तक पहुंचने के प्रयास की सराहना करते हैं लेकिन इसके लिए भगवान गणेश की तस्वीर का चयन और इसके नीचे लिखा कैप्शन सरासर गलत है और आपत्तिजनक है.

विरोध को बढ़ता देख रिपब्लिकन पार्टी के नेता जेसी जेट्टॉन मीडिया से मुखातिब हुए और उन्होंने इसके लिए माफी मांगी. उन्होंने कहा कि उनके द्वारा दिए गए इस विज्ञापन का मकसद हिंदुओं के भगवान गणेश की तरह मनुष्य को अच्छाइयों से अवगत कराना था. साथ ही इसके जरिए गधे और हाथी की तुलना करना भी था. पार्टी का मकसद हिंदू-अमेरिकियों की भावना को ठेस पहुंचाना हरगिज नहीं था. हम इसके लिए खेद प्रकट करते हैं. बताते चलें कि विज्ञापन के कैप्शन में गधे और हाथी की तुलना से मतलब डेमोक्रेटिक पार्टी और रिपब्लिकन पार्टी के लोगो से था. दरअसल रिपब्लिकन पार्टी का लोगो हाथी है और डेमोक्रेटिक पार्टी का लोगो गधा है. बताते चलें कि अमेरिका में 6 नवंबर को मध्यावधि संसदीय चुनाव होने जा रहे हैं. डेमोक्रेटिक नेता प्रेस्टन कुलकर्णी पूर्व राजनयिक रह चुके हैं और वह 22वें जिले टेक्सास से चुनाव लड़ रहे हैं.

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com