मंदिर की जमीन वापसी के लिए धरने पर बैठे ‘भगवान’

उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार भू-माफिया के खिलाफ अभियान छेड़ने का दावा कर रही है, लेकिन झांसी जिले में मंदिर की जमीन से कब्जा छुड़वाने के लिए खुद भगवान को धरना देना पड़ा।दरअसल, झांसी जिले के मऊरानीपुर तहसील क्षेत्र के रोरा गांव में एक पुराना मंदिर है, जहां भगवान ठाकुर जी विराजमान हैं। छह महीने पहले यहां के पुजारी  ने गांव की सुधा रानी नामक महिला को मंदिर की जमीन बेच दी और गायब हो गया। इसके बाद अब न तो मंदिर में कोई पुजारी है और ही रोजाना की तरह पूजा-अर्चना होती है। 

ग्रामीणों में गुस्सा 
गुस्साए ग्रामीण इकठ्ठा होकर भगवान ठाकुर जी की प्रतिमा को लेकर उप-जिलाधिकारी कार्यालय में धरने पर बैठ गए। गुस्साए ग्रामीणों का कहना है कि सुधा रानी नाम की महिला ने पुजारी से जबर्दस्ती मंदिर में लगी कृषि भूमि की रजिस्ट्री करा ली और पुजारी को भगा दिया। 

ग्रामीणों ने कहा मंदिर में भगवान की पूजा नहीं हो पा रही है। उनके रहने का स्थान नहीं बचा है इसलिए भगवान को साथ लेकर वे मंदिर की चाबी व मूर्तियां सौंपने आए हैं। 

उन्होंने उपजिलाधिकारी से भगवान की जमीन वापस दिलाने की मांग की है। धरना दे रहे ग्रामीणों ने तहसीलदार पर रिश्वत लेकर मंदिर की जमीन लिखवाने का भी आरोप लगाया है। 

जमीन वापसी का दिलासा 
मऊरानीपुर की उपजिलाधिकारी (एसडीएम) वान्या सिंह ने बताया कि ग्रामीणों को समझा-बुझा लिया गया है और नियमानुसार मंदिर  की जमीन वापस करने की कार्रवाई की जाएगी। 

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com