AMU से कश्मीरी छात्र निष्कासित, उरी हमले पर की थी अभद्र टिप्पणी

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के कुलपति जमीरद्दीन शाह ने जम्मू-कश्मीर के उरी में हुए आतंकवादी हमले के सिलसिले में ‘फेसबुक’ पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाले कश्मीरी मूल के एक छात्र को सोमवार को AMU से निष्कासित कर दिया। एएमयू के प्रवक्ता राहत अबरार ने बताया कि कुलपति ने उरी में सेना के बेस पर आतंकवादियों के हमले में 17 जवानों के शहीद होने के बाद इस मामले में फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट डाले जाने की शिकायत की व्यक्तिगत स्तर पर जांच की और मुदस्सर यूसुफ नामक छात्र को दोषी मानते हुए उसे विश्वविद्यालय से निकाल दिया।

शाह ने कहा कि वह AMU में राष्ट्र विरोधी भावनाओं को हवा देने वाली किसी भी हरकत को बर्दास्त नहीं करेंगे। उन्होंने बताया कि श्रीनगर का रहने वाला यूसुफ AMU में कार्बनिक रसायन शास्त्र से परास्नातक की पढ़ाई कर रहा था। बताया जाता है कि यूसुफ ने रविवार को कुलपति से मुलाकात करके यह कहते हुए माफी मांगी थी कि उसने भावनाओं में बहकर वह टिप्पणी कर दी थी, लेकिन शाह ने उसकी हरकत को अक्षम्य मानते हुए उसके खिलाफ कार्रवाई की।

यूसुफ ने फेसबुक पर पोस्ट किया था कि 17 जवानों की हत्या हुई है, इसको उन्हींने अंजाम दिया, जिसे इंडियन आर्मी ने आतंकी बनाया। इसकी चौतरफा आलोचना हो रही थी। इसके बाद अलीगढ़ से भाजपा सांसद सतीश कुमार गौतम ने सोमवार सुबह कुलपति को पत्र लिखकर दोषी छात्र के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com