स्कूल के सामने है मधुशाला तो कैसे चले पाठशाला!

रिपोर्ट – महेश सैनी (हरदोई)

हरदोई – जनपद के कॉन्वेंट स्कूल में मासूमो की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर स्कूल प्रशासन और पुलिस प्रशासन की ओर से काफी उचित इंतजाम किए गए। ताकि मासूमो को किसी भी होने वाली अनहोनी से बचाया जा सके। मगर जिला प्रशासन की लापरवाही के चलते तीन स्कूलो  के आसपास 3 शराब के ठेकों को खुलवा दिए गए है। जिससे स्कूल प्रशासन को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। स्कूल प्रशासन के जिम्मेदार अधिकारियों ने बताया कि इन शराब के ठेकों पर शराब पीने के बाद लोग गली गलौज और कई तरह की आपत्तिजनक स्थिति पैदा कर देते है, और इनको मना करने पर ये लोग लड़ने झगडने तक को तैयार हो जाते है।जिससे शराब के ठेकों के पास बच्चों और टीचरों का निकलना बैठना दूभर रहता है।


बताते चले कि हरदोई शहर के नघेटा रोड पर स्थित ST.xavier's  मांटेसरी हाउस ऑफ चिल्ड्रेन स्कूल ,आर आर इंटर कालेज,बाल विघा भवन स्कूल में बच्चों को इस समय  बच्चो की सुरक्षा व्यवस्था काफी हद तक बढ़ दी गयी है। जिससे कि बच्चों के साथ होने वाली अनहोनी घटनाओं पर कुछ हद तक रोकथाम की जा सके। जिसको लेकर ST.xavier's स्कूल प्रशासन की ओर से बच्चों के आइकार्ड जारी कर दिए गए।जो एक आइकार्ड बच्चों के अभिभावकों के पास दूसरा आइकार्ड बच्चो के पास रहता है।स्कूल पहुँचने वाले अभिभावक जब वो आइकार्ड स्कूल प्रशासन के लोगो को दिखाते है। तब बच्चे को उनके सुपुर्द किया जाता है।जिससे कि बच्चों के साथ कोई घटना न घटित हो सके।और जिसके बाद पुलिस प्रशासन की ओर से भी सुरक्षा व्यवस्था को लेकर खास इंतजाम किए गए है।और सूचना मिलते तत्काल सम्बंधित थाने की पुलिस फोर्स तत्काल मौके पर पहुँचती है।


 मगर हरदोई जिला प्रशासन की ओर से बहुत ज्यादा खामिया बरती जा है। नघेटा रोड पर इन तीनो के स्कूलो के पास प्रशासन में 3 शराब के ठेकों को खोलने की अनुमति देकर वहा पर शराब बिक्री का संचालन शुरू कर दिया है। जिससे वहां आये दिन शराब पीने के बाद लोग आपत्तिजनक स्थिति पैदा करते रहते है, और अगर कोई इनको मना करता है।तो मामला मारपीट और लड़ाई झगड़े तक पहुँच जाता है। स्कूली बच्चों ने इन वाइन शॉप्स को हटवाने के लिये कई बार धरना प्रदर्शन भी किया। मगर उसके बाद भी चेन की बासुरी बजा रहे जिला प्रशासन की आँखे नही खुली। श्याद जिला प्रशासन किसी अनहोनी घटना के इंतजार में बैठा है।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com