महोबा में करीब 250 बुदेलों ने आल्हा चौक पर कराया सामूहिक मुंडन

रिपोर्ट – अनीस मंसूरी

Edit By – अनुज पांचाल

महोबा – उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के 23 जनपदों को मिलाकर अलग बुंदेलखंड राज्य गठित करने की मांग को लेकर पिछले डेढ़ महीन से अनसन पर बैठे करीब 250 बुदेलों ने आल्हा चौक पर सामूहिक मुंडन करवाकर सबको हैरान कर दिया। मुंडन कराने वाले लोगों ने बीजेपी नीत केंद्र और राज्य सरकारों पर वादा खिलाफी का आरोप लगाया। बुंदेली समाज संगठन के संयोजक तारा पाटकर ने बताया कि उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में विभाजित बुंदेलखंड को पृथक राज्य घोषित किए जाने के लिए पिछले 46 दिन से भूख हड़ताल की जा रही है। बुंदेलों ने सरकार को आगाह किया कि अगर उसने पृथक बुंदेलखंड राज्य की मांग नहीं मानी तो बुंदेले सरकार की ईंट से ईंट बजाकर अपना अधिकार छीन लेने के लिए मजबूर होंगे। अनशन पर बैठे बुंदेलों का कहना था कि बुंदेलखंड में विकास के तमाम संसाधन मौजूद हैं। फिर भी बुंदेलखंड पिछड़ा हुआ है। उनका कहना था कि अगर मध्यप्रदेश और उत्तर प्रदेश के 23 जनपदों को मिलाकर बुंदेलखंड राज्य बनाया जाता है तो छोटे परिवार की तरह छोटे राज्य से विकास के नए आयाम खुलेंगे। उनका कहना था कि बुंदेलखंड की मांग 61 साल पुरानी है। फिर भी सरकार इस पर धयान नहीं दे रही है। इसलिए उन्होंने सरकार को मृत समझकर सामूहिक मुंडन कराकर सरकार का अंतिम संस्कार कर दिया। अनशनकारी तारा पाटकार बताते हैं कि अगर अलग राज्य की मांग न मानी गई अनशन आगे चलकर विकराल स्वरूप धारण कर लेगा।

 

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com