मुस्लिम महिलाओं में तुलसी लेने की मची होड़, पीपल लगाकर क़ब्रिस्तान में किया पौधरोपण

जयपुर शहर में इन दिनों पर्यावरण सरक्षण को लेकर जागरूकता देखते ही बनती है, ऐसा पहली बार देखने को मिला कि मुस्लिम महिलाओं में तुलसी के पोधे लेने की होड़ मची रही साथ ही क़ब्रिस्तान में पीपल, बरगद, आंवला जैसे पोधे खुद मुस्लिम धर्म गुरुओं ने लगाए श्री कल्पतरु संस्थान और मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के संयुक्त तत्वाधान में आज शास्त्री नगर की भट्टा बस्ती स्थित क़ब्रिस्तान में अनूठी पहल ‘दरख़्त परिंदों का मज़हब नहीं होता’ के तहत बड़े पैमाने पर पौधरोपण किया गया ।

7

मंच की शुरआत राष्ट्रीय संयोजिका रेशमा हुसैन एवं वक़्फ़ बोर्ड के चेयरमेन अबुबकर नक़वी ने पीपल का पौधा लगाकर की, पौधरोपण के बाद बस्ती में तुलसी के पोधे निशुल्क वितरित किये गए । अभियान के तहत महिलाओं में तुलसी के पोधे लेने की होड़ मची रही । रेशमा हुसैन ने अभियान की सराहना करते हुए कहा की कुरान पाक में तुलसी को रेहान कहा गया है और इसे औषधीय पौधा माना गया है । आज से पहले मुस्लिम समाज तुलसी जैसे पौधों से दूर रहा लेकिन आज सभी को समझ में आने लगा है की दरख़्त परिंदों का मजहब नहीं होता । वहीँ नक़वी ने वक़्फ़ बोर्ड से अभियान को मदद का आश्वासन दिया । इस अवसर पर हाबिद हुसैन, डॉ मुन्नवर चौधरी, जमीला, पूनम शर्मा, रुखसार, मोहमद उमर, मोहम्मद ज़हिर, आकाश बेनीवाल, ऋषि प्रताप सहित सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com