नही टला अभी खतरा, दिल्ली सहित कई राज्यो में अलर्ट जारी

भारतीय मौसम विभाग की चेतावनी के बाद उत्तर भारत में आंधी-तूफान ने दस्तक दे दी है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में देर रात धूल भरी आंधी-तूफान ने दस्तक दी। जिससे तापमान में कुछ गिरावट आई। वेधशाला के एक अधिकारी ने कहा कि 70 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तूफान रात करीब 11 बजकर 15 मिनट पर दिल्ली पहुंचा। मौसम विभाग ने रात आठ बजकर 53 मिनट पर चेतावनी संदेश जारी की थी कि दिल्ली-एनसीआर में अगले तीन-चार घंटे में बारिश/धूल भरा आंधी तूफान आने की संभावना है। मौसम विभाग ने बताया कि दिल्ली सहित जम्मू-कश्मीर, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान, बिहार, सिक्किम, पूर्वी व पश्चिम बंगाल, झारखंड, मध्य प्रदेश, गुजरात, छत्तीसगढ़, उड़िसा, विदर्भ, महाराष्ट्र, तेलंगाना, कर्नाटक, तमिलनाडु और केरल में अगले 3-4 घंटे में तूफान आ सकता है। मौसम विभाग की चेतावनी को देखते हुए जम्मू-कश्मीर, हिमाचल , उत्तराखंड, हरियाणा, पश्चिमि उत्तर प्रदेश, सिक्किम और पूर्वी बंगाल में अलर्ट जारी कर दिया गया है। 

वहीं पंजाब, दिल्ली, पूर्वी स्थान पश्चिमी राजस्थान विदर्भ और मराठवाड़ा, बिहार, पूर्वी उत्तर प्रदेश, असम, मेघालय, कर्नाटक, तमिलनाडु और केरल में ओला वृष्टि और भारी बारिश की संभावना है। 

खोजी एवं बचाव दलों को तैयार रहने को कहा गया है। यह सारी तैयारी मौसम विभाग द्वारा भारी बारिश एवं आंधी तूफान की चेतावनी जारी करने के बीच की गई है।

यातायात पुलिस ने अपने र्किमयों से टूटे पेड़ जैसी बाधाओं को हटाने के लिए तैयार रहने को कहा।

वही आंधी-तूफान की चेतावनी पर दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) भी सतर्क है। मंगलवार को मेट्रो ट्रेनों की रफ्तार 70-90 किलोमीटर प्रतिघंटे की बजाय 40 किलोमीटर प्रतिघंटे ही रहेगी। एलिवेटेड ट्रैक पर चलने वाली मेट्रो की रफ्तार तो और धीमी रहेगी, क्योंकि यहां वैसे ही हवा की रफ्तार तेज होती है। इसे लेकर डीएमआरसी ने दिल्ली-एनसीआर में चलने वाली ट्रेनों को निर्देश जारी कर दिए हैं।      

 

मुख्य सचिव अंशु प्रकाश द्वारा तैयारियों की समीक्षा के लिए आयोजित उच्चस्तरीय बैठक की अध्यक्षता करने के बाद सरकार ने प्रशासन को हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने को कहा है।

 

उत्तराखंड में तूफान के कारण पर्वतीय क्षेत्रों में बिजली के खंभे गिर गए जिससे कई इलाकों में अंधेरा छा गया। राज्य के सभी जनपदों में स्कूल और आंगनबाड़ी केंद्र बंद रखने के आदेश जारी किए गए हैं। मौसम विभाग की चेतावनी का असर राज्य के कई स्थानों में दिखने लगा है। चमोली, उत्तरकाशी, टिहरी, पिथौरागढ़, पौड़ी जनपदों के कई स्थानों पर बिजली के खंबे धराशाई होने की खबर है। वहीं हरियाणा के जींद में गरज के साथ हल्की बूंदाबादी तो बेरी में तेज आंधी और रेवाड़ी में भी तूफान ने रफ्तार पकड़ ली है और पूरे शहर की बिजली गुल हो चुकी है।

दिल्ली, उत्तर प्रदेश, राजस्थान और हरियाणा के कई इलाकों में आंधी आने के बाद बिजली कटौती की खबर आई है। हालांकि इस आंधी-तूफान से अभी तक किसी भी तरह के जान-माल के नुकसान की सूचना नहीं है।

 

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com