यूपी पुलिस का कारनामा, खुले घूम रहे कुकर्म के आरोपी,पीडित के पक्ष में आवाज उठाने वाले पर भी हमला

यूपी की पुलिस पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और डीजीपी की नसीहतों का भी कोई असर नहीं हो रहा है। उसने कसम खा रही है कि वो बिल्कुल भी नहीं सुधरेगी…और कार्रवाई के नाम पर केवल अपनी मनमानी करेगी। ऐसा ही एक मामला सामने आया है अलीगढ़ जनपद से…जहां न्याय मांग रहे एक परिवार ने सोमवार को राजधानी लखनऊ में डीजीपी से गुहार लगाई। मामला अलीगढ़ के क्वारसी थाना क्षेत्र के सुखरावली गाव का है। यहा के रहने वाले 14 साल के किशोर के साथ एक महीना पहले कुछ लोगों ने कुकर्म किया था। जब पीड़ित ने अपने परिवारवालों को अपने साथ घटी घटना की जानकारी दी…तो उन्होंने पुलिस में मामला दर्ज कराया। मामला तो दर्ज हो गया…लेकिन आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई। राष्ट्रीय जाट एकता संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुनील चौधरी ने जब पीड़ित परिवार के पक्ष में आवाज उठाई तो दबगों ने 25 जून को उनके घर में घुसकर उनपर जालेवा हमला कर दिया। पुलिस ने इस मामले में भी 307 समेत गंभीर धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है। लेकिन आरोपी दबंग रम्मा उर्फ मुंशी और महारज सिंह उर्फ गूंगा को अब तक गिरफ्तार नहीं किया गया है। लेकिन आरोपी अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं। इसी मुद्दे पर पीड़ित परिवार ने सोमवार को लखनऊ पहुंचेकर डीजीपी से गुहार लगाई है। डीजीपी से आश्वासन मिलने के बाद पीड़ित परिवार ने कहा कि आरोपियों को एक बीजेपी नेता का समर्थन और रसूख हासिल है। इसलिए पुलिस उन्हें गिरफ्तार नहीं कर रही है।

 

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com