नंगे की नंगई से परेशान यमुनानगर के लोग

राजस्थान में एक कहावत बहुत मशहूर है…’नागो जाणै म्हारै सूं डरै, शरमां मरतो घर मं बड़ै'। यहां नागो शब्द रास्ते से गुजर रहा होता है तो लोग उसे देखकर अपने घर में घुसने लगते हैं। हालांकि बदमाश और नंगा इंसान ये सोचता है कि सामने वाला व्यक्ति उससे डरकर अपने घर में घुस गया है…जबकि हकीकत ये है कि सामने वाला व्यक्ति शर्म के कारण अपने घर में घुस जाता है।

कुछ ऐसा ही नजारा आजकल यमुनानगर के गांव कासली में देखने को मिल रहा है…जहां एक बेशर्म, अभद्र इंसान के कारण गांव के लोगों का जीना मुहाल हो गया है। औरतों, बच्चो की कौन कहे…मर्द तक उसके सामने जाने से डरते हैं…यह कोई पागल शख्स नहीं है…बल्कि अच्छा-खासा इंसान है…और वह जानबूझकर ऐसा करता है। इसका जब मन किया…तो यह गांव में…गलियों में…लोगों के घरों के आगे नग्न हालत में खड़ा हो जाता है…उन्हें गालियां देने लगता है…जब कोई इसका विरोध करता है तो उससे बदतमीजी करता है…महिलाओं से भी अभद्रता करता है। इस मनचले की अभद्रता से लोगों में दहशत है…और वे उसके सामने जाने से परहेज करते हैं…

लोगों ने इसकी शिकायत पुलिस से भी की…लेकिन उस पर कोई असर नहीं पड़ा…और पुलिस के सामने भी वह कपड़े उतारकर खड़ा हो गया…जब पुलिस उसे अपने साथ थाने ले जाने लगी…तो उसने अपनी पत्नी तक के कपड़े उतार देने की बात कही…उसकी बेशर्मी और बेहयाई से तंग आकर पुलिस बैरंग वापस लौट आई…यहां तक कि लोगों ने डीएसपी से भी इसकी शिकायत की है…लेकिन उसकी अभद्रता का सिलसिला जारी है।

हद तो तब हो जाती है जब यह शख्स बच्चों तक से भी बदतमीजी और अश्लील बातें शुरू कर देता है…लिहाजा बच्चे अब स्कूल जाने से भी डरने लगे हैं…लोग भी उससे उलझने की जगह चुपचाप अपना रास्ता बदलकर जाने और अपने-अपने घरों में रहने में ही अपनी भलाई समझते हैं…और फिर पुलिस भी उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं कर रही है…लिहाजा उसकी हिम्मत और बढ़ती जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com