बीजेपी विधायक के बेटे पर रेप का आरोप, पीड़िता ने दी आत्मदाह की चेतावनी

रेप की घटनाए रुकने का नाम ही नही ले रही है एक ऐसा ही मामला यूपी के शाहजहांपुर का है यहा पर एक युवती ने बीजेपी विधायक के बेटे पर रेप का आरोप लगाया है. पीड़िता आरोपी पर कार्रवाई की मांग करते हुए कलेक्ट्रेट पर धरने पर बैठी. पीड़िता का आरोप है कि विधायक के बेटे ने उसके साथ बलात्कार ही नहीं बल्कि मारपीट कर उसे बंधक भी बनाए रखा. पीड़िता ने बताया कि शिकायत दर्ज करने के बाद भी पुलिस आरोपी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं कर रही है. धरने के कुछ घंटे बाद अधिकारियों ने जल्द कार्रवाई का भरोसा दिलाकर धरना खत्म करा दिया. वहीं पीड़िता ने कार्रवाई न होने पर आत्मदाह की चेतावनी दी है.  

इससे पहले उन्नाव जिले की एक युवती ने भाजपा के विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर बलात्कार का आरोप लगाया था। उन्होंने मामला पिछले साल 4 जून, 17 का बताया है। जब युवती की मां ने विधायक कुलदीप सिंह सेंगर सहित कुछ लोगों के खिलाफ रेप की शिकायत की थी। हाल ही में जब बीते 3 अप्रैल को विधायक के भाई अतुल ने मुकदमा वापस लेने का दबाव बनाया, तब 8 अप्रैल को पीड़िता ने परिवार समेत मुख्यमंत्री आवास के बाहर आत्मदाह का प्रयास किया, लेकिन पुलिस ने उन्हें रोक दिया था। 9 अप्रैल को पीड़िता के पिता की पुलिस हिरासत में मौत हो गई। इस मामले में विधायक के खिलाफ एफआईआर हुई और राज्य सरकार ने मामला सीबीआई को सौंप दिया।

 

रेप पीड़िता का आरोप है कि पिछले पांच सालों से वो इंसाफ के लिए करीब हर जगह गुहार लगा चुकी है, लेकिन अब तक उसे इंसाफ नहीं मिला है. पीड़िता का आरोप है कि राजनीतिक दबाव के चलते गिरफ्तारी नहीं की गई है. पीड़िता के मुताबिक, साल 2011 में रोशन लाल वर्मा के बेटे मनोज वर्मा ने उसके साथ बलात्कार किया और कई दिनों तक बंधक बनाए रखा था. 

धरने की जानकारी के बाद अधिकारी मौके पर पहुंचीं. कुछ घंटे बाद अधिकारियों ने जल्द कार्रवाई का भरोसा दिलाकर धरना खत्म करा दिया. पीड़िता ने अधिकारियों को आरोपी की गिरफ्तारी नहीं होने पर 11 मई को कलेक्ट्रेट में आत्मदाह करने की चेतावनी दी है. 


पुलिस ने बताया कि निगोही थाना क्षेत्र के गांव की युवती ने साल 2012 में विधायक  और उनके पुत्र के खिलाफ अपहरण कर दुष्कर्म करने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी. इस मामले की विवेचना सीबीसीआईडी को सौंप दी गई. 


विधायक का कहना है की आरोप बेबुनियाद हैं। यह सब सपा के इशारे पर हो रहा है।रेप पीड़िता को इंसाफ न मिलने से जिले में अब राजनीति भी शुरू हो गई है. सपा के कार्यकर्ताओं ने पीड़िता को इंसाफ दिलाने के लिए आर-पार की लड़ाई शुरू कर दी है.

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com