पढ़े क्या हुआ जब एक दिन का विधायक बन 5 वर्षीय दिव्यांग मासूम ने सुनी लोगों की समस्या

बॉलीवूड़ मूवी नायक में एक दिन का सीएम तो आपने सुना ही होगा। रियल लाइफ में  इसी तरह का एक मामला बुंदेलखंड के महोबा में देखने को मिला है। जहा पीएम मोदी के दिव्यांग प्रेम से प्रेरित होकर बीजेपी विधायक ब्रजभूषण राजपूत ने 5 वर्षीय दिव्यांग मासूम को एक दिन का विधायक बनाकर देश मे नया इतिहास रच दिया है। चरखारी विधायक के दिव्यांग प्रेम की अनूठी मिशाल को देखने के लिए सैकड़ों ग्रामीणों का हुजूम उमड़ पड़ा है।

बता दे की 231 चरखारी विधान सभा से बीजेपी विधायक ब्रजभूषण राजपूत ने एक पांच वर्षीय मासूम दिव्यांग को एक दिन का विधायक बना एक नयी सौगात देते हुए अपने निजी सचिव सहित गनर को उसकी सुरक्षा में लगा दिया और अपनी गाडी भी सौंप दी | मासूम दिव्यांग अरुण विधायक का पद पाकर बहुत खुश हुआ | इतना ही नहीं एक दिन के विधायक ने चौपाल लगाकर जन समस्याओं को सुना साथ ही प्रोटोकॉल के तहत चरखारी कोतवाली पहुंचकर वहां का निरीक्षण भी किया| बुंदेलखंड के कश्मीर कहे जाने वाले चरखारी के रामनगर का ये नजारा जनपद में चर्चा का विषय बना रहा !

समस्याओ को सुनने के बाद नव-नवेले विधायक अपने निजी सचिव को समस्याओ के निस्तारण के इशारे से निर्देश भी दे रहे हैं| एक दिन के विधायक से कुदरत ने भले ही बोलने की शक्ति को छीना हो मगर प्रतिभा के धनी अरुण इशारों में सारे निर्देश दे रहे हैं | यह नजारा यही नहीं थमा बल्कि विधायक देर शाम चरखारी नगर की कोतवाली का निरीक्षण करने भी जा पहुंचे | जहां पुलिस में तैनात दरोगाओं ने उनको गोद में उठा कर कुर्सी पर बैठा दिया और दिन में आयी तमाम शिकायतों के निस्तारण रजिस्टर थमा दिया | विधायक जी आएं और पुलिस आवभगत न करे ऐसा कैसे हो सकता है सो विधायक जी की आवाभगत के लिए पुलिस ने जलपान की व्यवस्था भी की और निरीक्षण के बाद विधायक जी अपने अगले पड़ाव के लिए रवाना हो गए | 

चरखारी विधानसभा के जैतपुर कसबे से पहुंचे फरियादियो की खासी भीड़ नए विधायक के सामने जा पहुंची | बिजली की समस्या को लेकर शिकायती पत्र भी सौंपा | ख़ुशी हुई की एक दिन के विधायक ने शिकायत को गंभीरता से लेते हुए निजी सचिव के माध्यम से बिजली विभाग के अधिकारियों को तत्काल बिजली व्यवस्था बहाल करने के निर्देश दिए |

वही, अपने दिव्यांग बेटे की किस्मत को देखकर उसके पिता तुलसीराम की ऑंखें नम हो गई! वो बताते है कि उसका पुत्र जन्म से नहीं बोल पाता लेकिन चरखारी के विधायक ब्रजभूषण राजपुत ने मेरे बेटे को एक दिन का विधायक बनाकर जो गौरव और सम्मान दिया है उसका मैं सदैव ऋणी और आभारी रहूँगा | 

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com