26 November 2020 , Thursday
Login  

बदायूँ

रिपोर्ट : इंतज़ार हुसैन
ब्यूरो हेड | बदायूं

27 Oct

1K ने देखा




बदायूं। 10 हजार रुपए तक सिक्योरिटी फ्री लोन है। नियमित भुगतान करने पर 7 प्रतिशत की सब्सिडी दी जाएगी। डिजीटल लेनदेन पर साल में 1200 रुपए तक का कैशबैक दिया जा रहा है। इसके अलावा लोन लेने वाले व्यक्ति ने समय से ऋण की धनराशि का भुगतान कर दिया तो अगली बार बड़ा लोन भी दिया जाएगा। जनपद बदायूँ को 1948 लाभार्थियों को ऋण उपलब्ध कराने का लक्ष्य प्राप्त था, लेकिन डीएम के निर्देशानुसार गरीब निर्धन व्यक्तियों को ज्यादा से ज्यादा आर्थिक पहुंचाने के उद्देश्य से डूडा विभाग ने 2640 व्यक्तियों को ऋण वितरित किया है, यानि लक्ष्य को पार कर 135.52 प्रतिशत लाभार्थियों को प्रधानमंत्री स्वनीधि योजना का लाभ दिया गया है। अब प्रदेश सबसे ज्यादा ऋण उपलब्ध कराने में जनपद बदायूँ छठे(6) स्थान पर आ गया है। इस दौरान प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के लाभार्थियों को 10-10 हजार के चेक भी वितरित किए गए। मंगलवार को नगर पालिका परिषद बदायूँ के परिसर में नगर पालिका अध्यक्ष दीपमाला गोयल, भाजपा जिलाध्यक्ष अशोक भारतीय एवं सिटी मजिस्ट्रेट अमित कुमार की उपस्थिति में प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना अन्तर्गत ऋण प्राप्त करने वाले लाभार्थियों के लिए प्रधानमंत्री की वर्चुअल बैठक का आयोजन किया गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के छोटे दुकानदारों और रोजगार करने वालों को बड़ा तोहफा दिया। प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के तहत रेहड़ी-पटरी वालों को दस हजार तक का कर्ज दिया जा रहा है। इसी योजना के लाभार्थियों से पीएम मोदी ने मंगलवार को संवाद किया। प्रधानमंत्री बोले कि इस योजना के तहत सबसे अधिक आवेदन यूपी से ही आए हैं और यूपी में तेजी से कर्ज को मंजूरी दी जा रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि आज कम पढ़े-लिखे लोग जो दिहाड़ी रोजगार का काम करते हैं, उन्हें भी बिना किसी दिक्कत के बैंक से कर्ज मिल रहा है, ताकि वो अपना काम आगे बढ़ा सकें। पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना ने दुनिया पर हमला किया, लेकिन भारत में गरीबों ने इसका डटकर सामना किया। आज योजनाएं जमीन पर उतर रही हैं और लोगों की आशंकाएं पूरी हो रही हैं। नगर पालिका परिषद बदायूँ की चेयरमैन दीपमाला गोयल ने कहा कि विश्व आज एक वैश्विक महामारी से जूझ रहा है, हमारे देश के नागरिकों पर तो कोरोना की वजह से दौहरा संकट आन पड़ा है। एक तरफ कोरोना से खुद को बचाना और दूसरी तरफ आर्थिक स्थिति ठीक न होने की वजह से हालात खराब हो रहे है। इसका सबसे बुरा प्रभाव गरीब और निर्धन लोगों पर पड़ा है। लेकिन सरकार की तरफ से ऐसे लोगों के लिए बहुत सी योजनाएं चलाई जा रही हैं। इन्ही में से एक है पीएम स्वनिधि योजना। सरकार इस योजना को बड़े जोरों शोरों से कामयाब बनाने में लगी हुई है। इस योजना के जरिए रेहड़ी-पटरी पर छोटी मोटी चीजे बेचने वाले लोगों तक मदद पंहुचाई जा रही है, जिससे वह फिर से अपना काम धंधा शुरू कर सकें। इस योजना के तहत कोरोना काल के दौरान मुश्किल हालातों में गुजर रहे स्ट्रीट वेंडर्स को सरकार की तरफ से 10,000 रुपए का लोन दिया जा रहा है। कोरोना वायरस के दौरान किए गए लॉकडाउन में सब कुछ बंद कर दिया था जिसका असर छोटे काम काजी लोगों पर पड़ा था। इसलिए ही केंद्र सरकार द्वारा इस योजना का आरंभ किया गया है ताकि लोग अपने काम को नए सिरे से शुरू कर सकें। भाजपा जिलाध्यक्ष अशोक भारतीय ने कहा कि स्ट्रीट वेंडर्स यानी रेहड़ी, ठेले वाले, फेरीवाले और सड़क किनारे छोटी दुकान चलाने वालों के लिए रुपए 10,000 लोन दिया जा रहा है। स्वनिधि योजना के तहत फिर से रेहड़ी पटरी वाले अपने काम कर सकें। कोरोना काल में चरमराई अर्थव्यवस्था को एक नई गति दी जा सके इसके लिए ही योजना चलाई जा रही है। योजना में आवेदन करने वाले लोगों को 10 हजार रूपए तक लोन के रूप में दिए जा रहे है, जिसको वह आसान किश्तों में चुका सकते हैं। अगर ऐसी कोई व्यक्ति किश्त समय से पहले चुका देता है तो उस व्यक्ति को सरकार की तरफ से लोन पर 7 प्रतिशत तक की सब्सिडी भी दी जाएगी। इस अवसर पर पीओ डूडा देवेश कुमार सिंह एवं लेखाकार प्रहलाद सिंह के साथ डूडा विभाग के विलसन, ब्रजेश, शोएब, जय विजय, अरुण कुमार झा सहित कर्मचारी व महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष सीमा राठौर सहित पार्टी के अन्य पदाधिकारीगण उपस्थित रहे।

FACEBOOK TwitCount LINKEDIN Whatsapp



देश विदेश

© COPYRIGHT Samachar Today 2019. ALL RIGHTS RESERVED. Designed By SVT India