छात्रों ने बनाई सोलर कार, एक दिन में 40 किमी तक का सफर तय कर सकती है

पेट्रोल-डीजल के लगातार बढ़ते दामों के बीच एसीई कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग के छात्रों ने सोलर कार बनाकर भविष्य के लिए राहत की उम्मीद जगाई हैं। आगरा के संजय प्लेस में एसीई कॉलेज के विद्यार्थियों ने सोलर का डेमो देते हुए सड़क पर एक राउंड लगाया। सोलर कार की टेस्ट ड्राइव ने लोगों का ध्यान आकर्षित किया।

छात्रों की टीम ने अपने शिक्षकों के दिशा निर्देशन में सोलर कार को तैयार किया। नौ महीने की कड़ी मेहनत के बाद तैयार हुई इस कार को बनाने में 50 हजार रुपये की लागत आई। इसका नाम नेजेन दिया है। एक दिन में कार लगभग 40 किमी तक का सफर तय कर सकती है। 900 वॉट मोटर पावर की कार में एक बार में तीन लोग सवार हो सकते हैं। कार में चार बैटरी का इस्तेमाल किया गया है। इसकी कीमत लगभग 16 हजार रुपये है। यह बैटरी पांच साल तक चलेगी। कार का प्रयोग बच्चों को स्कूल लाने-ले जाने, बड़े संस्थानों में पेट्रोल व डीजल के वाहन के बजाय इन्हें प्रयोग में लाकर प्रदूषण स्तर को कम करने में किया जा सकता है। भविष्य में इस कार को और बेहतर बनाने पर काम किया जाएगा। एसीई कॉलेज के चेयरमैन ने सोलर कार को छात्रों की विशेष उपलब्धि बताया। उन्होंने बताया कि अभी तक दुनिया में कहीं भी सोलर कार का प्रयोग नहीं किया जा रहा है। ताजनगरी के छात्रों का यह तोहफा पूरी दुनिया को पर्यावरण संरक्षण का संदेश देगा। अब इस तकनीक को पेटेंट कराने की तैयारी की जा रही है। ताकि इसका ज्यादा से ज्यादा फायदा लोगों तक पहुंचाया जा सके।  

watch video // https://youtu.be/dzF3nA0M5W4

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com