दादरी की सोनिया चहल ने वल्र्ड महिला बाक्सिंग में सिल्वर जीता

 विश्व महिला बाक्सिंग चैंपियनशीप में सिल्वर जीतने वाली चरखी दादरी के गांव नीमड़ी निवासी सोनिया चहल को इस मुकाम पर पहुंचाने के लिए जहां मां ने दूध बेचा वहीं पिता ने ठेके पर खेती की है। बेटी को विश्व के नक्शे पर लाने के लिए माता-पिता ने इस कदर कार्य किया कि उन्हें बस बेटी के खेल पर ध्यान दिया। इतना ही नहीं बल्कि बहन के खेल की जिद्द के आगे भाई ने नौंवी कक्षा में पढ़ाई छोडक़र अपनी लाडली को इस मुकाम पर पहुंचाने के लिए दिन-रात साथ रहकर हिम्मत दी। 

शनिवार शाम दिल्ली में चल रही विश्व महिला बाक्सिंग चैंपियनशीप में गांव निमड़ी की लाडली एक साधारण किसान परिवार में जन्मी सोनिया चहल ने फाइनल बाउट में जर्मनी की ओरनेला गेब्रियल वेहनर के साथ फाइट करते हुए सिल्वर मेडल जीत लिया। परिजनों ने सोनिया चहल की जीत पर मिठाइंया बांटकर खुशी का इजहार किया। शाम करीब 5 बजे ही गांव निमड़ी में बिजली नहीं होने पर भी परिजनोंं ने टीवी ऑन करके सोनिया चहल की फाइट का इंतजार करना शुरू कर दिया। शाम 5 बजकर 17 मिनट पर भारत की ओर से वल्र्ड वुमंस बाक्सिंग कदम रखते ही परिजनों का हौंसला देखते ही बनता था। सोनिया चहल ने 57 किलोग्राम भार वर्ग में सेमीफाइनल मुकाबले में नॉर्थ कोरिया की सोन वा जो को 5-0 के अंतर से पराजित करके फाइनल में जगह बना ली थी। फाइनल मुकाबले में सोनिया चहल ने भारत की ओर से मुक्के बरसाते हुए जर्मनी की ओरनेला ग्रेब्रियल वेहनर को कड़ी टक्कर दी। लेकिन तीन राउंडों में सोनिया ने खेलते हुए पूरे प्रयास के बाद प्रतियोगिता जर्मनी की खिलाड़ी विजेता रही।

सोनिया के पिता जयभगवान चहल व माता नीलम देवी पंच ने बताया कि सोनिया ने 2012 में गांव की अर्जुन अवार्डी कविता चहल से प्रेरणा लेते हुए बाक्सिंग आरंभ की थी। उनकी बेटी ने सिल्वर मेडल जीतकर विश्व में उनका व गांव का नाम रोशन कर दिया। उनको उम्मीद है कि आगे उनकी बेटी गोल्ड जीतकर अब की बार की कमी को पूरा कर देगी।

सोनिया चहल ने पहले भी बेहतर प्रदर्शन किया है। इससे पहले वह तुर्की में हुई अंतराष्ट्रीय प्रतियोगिता में ब्रांज मेडल जीता था। हरिद्वार में हुए सीनियर नेशनल 2016 में गोल्ड मेडल जीत चुकी है। इसके साथ ही 2014 में स्कूल नेशनल में गोल्ड हासिल कर चुकी है। सोनिया चहल इस समय रेलवे में में नौकरी कर रही है। सोनिया का भाई सुमित 12 वीं कक्षा के बाद में पिता जयभगवान का खेतीबाड़ी में हाथ बंटा रहा है। 

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com