आत्महत्या या दुर्घटना, ट्रेन की चपेट में आने से टुवक की मौत…

बिहार के भोजपुर जिले में एक निजी कोचिंग संचालक ने कथित तौर पर पारिवारिक कलह से तंग आकर ट्रेन के आगे कूदकर अपनी जान दे दी। घटना दानापुर-मुगलसराय रेल खण्ड के जगजीवन हाल्ट के समीप की है। मृतक अरुण कुमार सिंह मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के बखरिया गांव निवासी बृजबिहारी सिंह के पुत्र थे। अरुण नवादा थाना क्षेत्र के संकटमोचन नगर मुहल्ले में अपने पूरे परिवार के साथ रहते थे और जैन कॉलेज गेट के नजदीक निजी कोचिंग सेंटर चलाते थे। घटना के सम्बन्ध में बताया जा रहा है कि मृतक सोमवार की सुबह उदवंतनगर थाना क्षेत्र के चोराई गांव में किसी पंडित के यहाँ पूजा पाठ से संबंधित काम से निकले थे। लौटने के क्रम में जगजीवन हाल्ट के समीप डाउन लाइन पर मुगलसराय की तरफ से आ रही ट्रेन की चपेट में आकर उनकी मौत हो गई। हालांकि कुछ लोग इसे आत्महत्या बता रहे हैं। उनका कहना है कि मृतक ने ट्रेन के आगे कूदकर अपनी जान दी। ऐसे लोगों का कहना है कि मृतक अरुण पारिवारिक कलह को लेकर अक्सर तनाव में रहा करते थे। इस कारण उन्होंने ट्रेन से कटकर अपनी जान दी। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुची जीआरपी पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये आरा सदर अस्पताल भेज दिया। फिलहाल पुलिस आत्महत्या और दुर्घटना दोनों बिंदुओं से मामले की जांच कर रही है।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com