लड़की का रंग काला है, नहीं बन सकती मेरे घर की बहूरानी

दुर्गापुर (उदय प्रताप सिंह)

दहेज की रकम लौटाने आये लड़के के पिता को घर में घेरा, बुलाया पुलिस को

दुर्गापुर अंतर्गत प्रांतिका फांड़ी के बेनाचिति विद्यासागर इलाके के निवासी कालाचंद मंडल व उनका परिवार बेटी की शादी की तैयारियो को अंतिम रूप देने में लगा हुआ था. सात अगस्त को बेटी सात फेरे लेने वाली थी. कार्ड छप चुके थे. परिजनों में उसे बांट दिया गया था. लेकिन मंगलवार की रात लड़के वालों के यहां से अचानक फोन आया कि लड़की का रंग काला है और वह मोटी है. इसलिये वे अपने लड़के को उसके साथ नहीं ब्याह सकते हैं.

 

इसके बाद तो श्री मंडल व उनके परिवार की खुशियां ही काफूर हो गई. अब समाज में सम्मान की चिंता सताने लगी. लड़की व लड़की वालों को रातभर नींद नहीं आई. बुधवार सुबह दुर्गापुर एसएन बनर्जी रोड निवासी लड़के के पिता विमल राय चौधरी जब शादी के लिये ली गई रकम लौटाने श्री मंडल के दरवाजे पर पहुंचे तो क्रोधित लड़की वालों ने उन्हें पकड़ लिया और पुलिस को खबर दी. उनका कहना था कि अब फैसला थाने में ही होगा.

 

लड़की के पिता काला चंद मंडल ने बताया छह महीने पूर्व श्री चौधरी का परिवार उनकी बेटी को देखने के लिये आया था. उनके साथ उनका लड़का भी था. वे उनकी बिटिया को पसंद करके गये. दोनों परिवार की रजामंदी से ही तिथि वगैरह तय की गई. सात अगस्त को विवाह की तिथि निर्धािरत की गई. इसके बाद उन्होंने शादी के लिये सारी तैयारी भी कर ली. लड़के वालों की मांग के अनुसार लड़की को देने के लिये सभी सामग्रियां खरीदी जा चुकी है. लड़के वालों को दो लाख रुपये नगदी भी दी गई है. शादी का कार्ड छप गया है. परिजनों में बांटा जा चुका है.

 

सात अगस्त को शादी होने वाली थी लेिकन लड़के की माता ने अचानक फोन कर कहा कि लड़की का रंग काला है और वह मोटी है. इस कारण यह शादी नहीं हो सकती है. आपने जो रुपये दिये हैं, उसे वापस ले लीजिये. श्री मंडल ने कहा कि शादी नहीं होने पर उनकी बेटी और परिवार का बिरादरी  व समाज में सम्मान खत्म हो जायेगा. वो रिश्तेदारों, समाज के लोगों के भला क्या कहेंगे. उनकी बेटी का भविष्य खतरे में पड़ जायेगा. जब लड़की पसंद नहीं थी तो बात को इतना आगे बढ़ाने की क्या जरूरत थी.

 

विवाह की तैयारी होने के बाद रंग को बहाना बनाकर रिश्ता तोड़ना उचित नहीं है. लड़के वालों को इसकी सजा मिलनी चहिये . ताकि वे इस तरह की धोखाधड़ी न कर सके. इधर, लड़के के पिता विमल राय चौधरी का कहना है कि लड़का इस शादी के लिये राजी नहीं हो रहा है. अब वे क्या कर सकते हैं. जबरन शादी करने पर कहीं वह कोई बुरा कदम न उठा लें. दुर्गापुर पुलिस का कहना है कि दोनों पक्षों को समझाने-बुझाने की कोशिश की जा रही है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com