12 जून को हो सकती है ट्रंप और किम की बैठक : ट्रंप

हफ़्तों तक चली तल्ख़ बयानबाज़ियों के बाद अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने गुरुवार को उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन के साथ अपनी बैठक रद्द कर दी. ट्रंप ने इससे पहले वार्ता को रद्द कर दिया था. ट्रंप ने कहा कि उनका प्रशासन उत्तर कोरियाई अधिकारियों से इस संबंध में बातचीत कर रहा है.

ट्रंप व्हाइट हाउस में मीडिया से बोले, ‘हम देखेंगे कि आगे क्या होता है। हम उनके साथ बातचीत कर रहे हैं। मैं बैठक करना चाहता हूं। हम बैठक करना पसंद करेंगे। देखते हैं आगे क्या होगा।’ इस दौरान आशावादी नजर आ रहे ट्रंप ने एक सवाल के जवाब में कहा, ‘यह (बैठक) 12 जून को हो सकती है।’
अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप सिंगापुर में 12 जून को रद्द हो चुकी बातचीत को लेकर आशावादी नजर आए. एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा , ‘यह 12 जून को भी हो सकती है.’ इससे एक दिन पहले, ट्रंप ने किम को लिखे पत्र में सिंगापुर में 12 जून को प्रस्तावित बातचीत को रद्द करने की घोषणा की थी. उन्होंने प्योंगयांग के अत्यंत गुस्से को अपने फैसले की वजह बताया था.

उधर, उत्तर कोरिया ने एक बयान में शिखर वार्ता रद्द होने पर अफसोस जताया था और कहा था कि वह किसी भी समय वार्ता के लिए इच्छुक है. ट्रंप ने इसे बहुत अच्छी खबर बताया था.

शिखर वार्ता रद्द होने की ट्रंप की घोषणा पर उत्तर कोरिया ने अपने रुख में नरमी दिखाई है। उत्तर कोरिया ने निराशा जताते हुए कहा है कि वह अब भी अमेरिका के साथ बातचीत के लिए तैयार है। ट्रंप का यह फैसला दुनिया की इच्छा के अनुरूप नहीं है। उत्तर कोरिया के उप-विदेश मंत्री किम के-ग्वान ने कहा कि बैठक रद्द करने की आकस्मिक घोषणा हमारे लिए ‘अप्रत्याशित’ और ‘खेदजनक’ है। इसके बावजूद उत्तर कोरिया किसी भी समय, कैसे भी आमने-सामने बैठकर समस्याओं का समाधान करना चाहता है। हमने वादे के मुताबिक, देश के परमाणु परीक्षण ठिकाने तक को पूरी तरह से नष्ट कर दिया है। हम आशावादी हैं। 

 

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com