29 जून को उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू 125 रुपये का सिक्का करेगें जारी

सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय और भारतीय सांख्यिकी संस्थान (आइएसआइ) ने सांख्यिकी दिवस मनाने के लिए शुक्रवार 29 जून को कोलकाता में कार्यक्रम आयोजित किया है। इस दिन महालनोबिस जयंती है, जिसे सांख्यिकी दिवस के रूप में मनाया जाता है। उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू अब 125 रुपये का सिक्का भी जारी करेगे. यह सिक्का सांख्य‍िकी विशेषज्ञ पी सी महालनोबिस की 125वीं जयंती के अवसर पर जारी किया जाएगा. उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू शुक्रवार को इसे जारी करेंगे.

सांख्यिकी मंत्रालय ने एक बयान जारी कर बताया कि इस साल सांख्यिकी दिवस का विषय 'आधिकारिक सांख्यिकी में गुणवत्ता विश्वास ' है. इसकी खातिर कोलकाता में एक कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है.

वर्ष 2007 में सरकार ने 29 जून को सांख्‍यिकी दिवस के तौर पर घोषित किया था। आर्थिक योजना और सांख्‍यि‍की विकास के क्षेत्र में प्रशांत चन्‍द्र महालनोबिस के उल्‍लेखनीय योगदान के सम्‍मान में भारत सरकार उनके जन्‍मदिन, 29 जून को हर वर्ष 'सांख्‍यि‍की दिवस' के रूप में मनाती है। इस दिन को मनाने का उद्देश्‍य सामाजिक-आर्थिक नियोजन और नीति निर्धारण में प्रो. महालनोबिस की भूमिका के बारे में जनता में, विशेषकर युवा पीढ़ी में जागरुकता जगाना तथा उन्‍हें प्रेरित करना है।

प्रशान्त चन्द्र महालनोबिस प्रसिद्ध भारतीय वैज्ञानिक एवं सांख्यिकीविद थे। उन्हें दूसरी पंचवर्षीय योजना के अपने मसौदे के कारण जाना जाता है। भारत की स्वतंत्रता के पश्चात वे नवगठित मंत्रिमंडल के सांख्यिकी सलाहकार बने तथा औद्योगिक उत्पादन की तीव्र बढ़ोतरी के जरिए बेरोजगारी समाप्त करने के सरकार के प्रमुख उद्देश्य को पूरा करने के लिए योजना तैयार किया। उनकी प्रसिद्धि ‘महालनोबिस दूरी’ के कारण है जो उनके द्वारा सुझाया गयी एक सांख्यिकीय माप है। 

पांच सौ और एक हजार के नोटों की रूप रेखा बदल दी गई. इस बदलाव के बाद अब सरकार बाजार में नए सिक्के लाने की तैयारी में है. जी हां,सरकार बाजार में 125 रुपये का सिक्का लाने जा रही है. ऐसा पहली बार होगा जब भारतीय बाजार में 125 रुपये का सिक्का जारी किया जाएगा. फिलहाल भारत में सबसे अधिक मूल्य के सिक्के के रूप में 10 रुपये का सिक्का चलन में है.

 

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com