यूपी में एक और भीषण सड़क हादसा, ऑटो सवार 8 लोगों की मौत, कई घायल

घटना को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जताया दुख

 
एक्सीडेंट

  • रिपोर्टः शाहिद खान

हमीरपुर। कानपुर-सागर हाईवे पर मौदहा के मकरांव गांव के पास बुधवार शाम लोडर और ऑटो के बीच भीषण टक्कर में आठ लोगों की मौत हो गई। जबकि आठ लोग घायल हैं इनमें दो की हालत गंभीर है। मरने वालों में पिता-पुत्री भी शामिल हैं। घटना को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शोक जताया है। उन्होंने पीड़ितों को हर संभव मदद पहुंचाने के निर्देश दिए हैं।

दरअसल सुमेरपुर थाना इलाके के ग्राम इंगहोटा निवासी राजेश कुमार अपने ऑटो में बड़े चौराहे से 10 से अधिक सवारियां लादकर सुमेरपुर जा रहा था। तभी राजमार्ग पर ग्राम मकराव और इंगहोटा के बीच सामने से आ रहे पिकअप लोडर से ऑटो की जोरदार भिड़ंत हो गई। जिससे ऑटो और पिकअप लोडर छतिग्रस्त होकर सड़क पर पलट गए। जिससे ऑटो में बैठी सवारियों में चीख-पुकार मच गई। घटना के बाद घटनास्थल पर आने जाने वालों की भीड़ जमा हो गई। इधर घटना की सूचना मिलते ही कोतवाली प्रभारी पवन कुमार पटेल ने दलबल समेत मौके पर पहुंचकर सभी घायलों को पुलिस वाहन से आनन-फानन सरकारी अस्पताल पहुंचाया। जहां चिकित्सक ने राजेश निवासी इंगहोटा, रजूलिया, श्याम बाबू, रागिनी और दीपांजलि समेत सिद्धा उर्फ श्यामबाबू और विजय कुमार मृत घोषित कर दिया।

मृतक श्यामबाबू की पत्नी ममता, उसका बेटा सूर्यांश, महोबा के खरेला निवासी प्रमोद, कुरारा के सरसई निवासी नीरज, मुस्करा के इमिलिया निवासी जयकिशोर प्रजापति का छह वर्षीय बेटा मानव, कुलदीप, इंगोहटा निवासी प्रियंका को गंभीर हालत में जिला अस्पताल भेजा गया है।

बताया जाता हैं कि इन घायलों में 6 ऑटो सवार और 2 लोडर सवार हैं। मृतकों में श्यामबाबू अपने परिवार के साथ थाना मुस्करा के इमिलिया गांव स्थित ससुराल में एक शादी समारोह से वापस लौट रहे थे। छपरा निवासी विजय सीसीटीवी कैमरा लगाने का काम करते थे। वे मौदहा कस्बे की एक बैंक में कैमरा लगाकर ऑटो से लौट रहे थे। जिलाधिकारी चंद्रभूषण, पुलिस अधीक्षक शुभम पटेल और विधायक मनोज कुमार प्रजापति ने सीएचसी पहुंच घायलों का हालचाल लिया।