लूट और कार जैकिंग का आरोपी गिरफ्तार

आर्म्ड रॉबरी और कार जैकिंग के कई मामलों में था फरार

 
ARRESTED

  • रिपोर्टः अभिषेक नयन

दिल्ली। द्वारका जिले की जाफरपुर कलां थाना पुलिस की टीम ने लूट की नीयत से हथियार ले कर बाहर निकले एक बदमाश को गिरफ्तार किया है। इसकी पहचान गणेश उर्फ गौरव उर्फ सुरजीत के रूप में हुई है। ये ढांसा गाँव का रहने वाला है। डीसीपी शंकर चौधरी के अनुसार, इसके पास से एक देशी कट्टा और कारतूस बरामद की गई है। ये कई आपराधिक मामलों में लिप्त रहा है। इसे भगौड़ा घोषित कर इसके खिलाफ नॉन बेलेबल वारंट इश्यू किया जा चुका है।

डीसीपी ने बताया कि जिले में अवैध हथियारों के साथ वारदात को अंजाम देने की नीयत से घूमने वाले अपराधियों की पकड़ के लिए एसीपी छावला मनोज कुमार की देखरेख में जाफरपुर कलां थाना के एसएचओ के नेतृत्व में एटीओ बिनय सिंह, एसआई बहादुर सिंह, कॉन्स्टेबल सोमबीर, विमल, कालूराम और रमेश की टीम का गठन किया गया था।

पुलिस टीम इनकी पकड़ के लिए सर्विलांस और सूत्रों की सहायता से इनके बारे में जानकारियों को विकसित करती रहती है। इसी क्रम में पुलिस को सूत्रों से एक विशिष्ट सूचना प्राप्त हुई, जिसमे एक बदमाश के लूट की नीयत से हथियार के साथ इलाके में घूमने का पता चला। पुलिस ने इस सूचना पर त्वरित कार्रवाई करते हुए ढांसा-दौराला रोड स्थित ढांसा गेस्ट हाउस के पीछे ट्रैप लगा कर आरोपी को दबोच लिया। उसके पास से एक देशी कट्टा सहित 1  जिंदा कारतूस बरामद हुआ।

पूछताछ में इसने बताया कि वो गरीब परिवार से आता है। बुरी संगत में पड़ने के बाद वो कुख्यात बदमाश गजेंद्र यरफ टिल्लू के संपर्क में आया। उसने उसके साथ मिल कर कई लूट की वारदातों को अंजाम दिया था। पैसों और लग्जरी कार की चाह में कई कार जैकिंग को भी अंजाम दिया। इस्तेमाल के बाद वो कार को वो सुनसान जगह पर छोड़ देता था।

वारदात को अंजाम देने के बाद को पुलिस की पकड़ से बचने के लिए कभी-कभार ही मोबाइल इस्तेमाल करता था। अपनी आपराधिक गतिविधियों को छुपाने के लिए वो नाई का काम करता था। आरोपी पिछली बार, बाबा हरिदास नगर थाने में दर्ज एक मामले में गिरफ्तार हुए था। 3 महीने पहले ही वो जेल से बाहर आया था। पुलिस ने हथियार को जब्त कर, आरोपी के खिलाफ आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है, और आगे की जांच में जुट गई है।