मुजफ्फरनगर में जमकर गरजा प्रशासन का बुलडोजर, ध्वस्त की 50 करोड़ की कॉलोनियां

बिना नक्शे और लेआउट के अवैध तरीके से बनाई जा रही थी कॉलोनी

 
मुजफ्फरनगर

  • रिपोर्टः गोपी सैनी

मुजफ्फरनगर। उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में एमडीए विभाग ने गुरुवार को शहर के बाईपास पर बनाई जा रही अवैध कॉलोनियों पर बड़ी कार्रवाई करते हुए 10 कॉलोनियों को ध्वस्त किया। एमडीए सचिव आदित्य प्रजापति ने बताया कि रामपुर तिराहा के पास 70-80 बीघा जमीन है। जिस पर 3 साइट चल रही है। जिसकी कीमत करीब 50 करोड़ है। सभी अवैध कॉलोनी अब बिना नक्शे और लेआउट के बनाई जा रही थी। इन सभी अवैध कॉलोनियों को नोटिस जारी किया गया था। जिसके बाद धवस्तीकरण के आदेश पारित हुए। उसी के तहत कार्रवाई की गई है।

दरअसल.. मुजफ्फरनगर में भूमाफिया लगातार बाईपास के चारों ओर खेती की जमीन पर प्लॉटिंग कर मोटी रकम कमाने का काम कर रहे हैं। भू माफिया एमडीए द्वारा जारी गाइडलाइंस को ताक पर रख कर अवैध निर्माण कर रहे हैं। एमडीए सचिव आदित्य प्रजापति ने बताया कि ध्वस्तीकरण की ये कार्रवाई गुरुवार देर शाम तक चलेगी। उन्होंने कहा कि जनपद में 8-10 कॉलोनीयों पर कार्रवाई की जा रही है। जिनकी कीमत करीब 50 करोड़ रुपये है।

एमडीए सचिव ने बताया कि ये सभी कॉलोनियों बिना नक्शे और बिना लेआउट पास कराकर बनाए जा रहे थे। इनको पूर्व में नोटिस भी जारी किया गया था। लेकिन इनकी ओर से कोई जवाब प्राधिकरण में दाखिल नहीं किया गया। इसके बाद आज इन 810 कॉलोनियों के खिलाफ प्राधिकरण प्रवर्तन दल और तहसीलदार सदर की मौजूदगी मे धवस्तीकरण की कार्रवाई की जा रही है।