नौकरी का झांसा देने वाले गिरोह का खुलासा, दो आरोपी गिरफ्तार

एयरपोर्ट पर नौकरी लगवाने के नाम पर लोगों से करते थे धोखाधड़ी

 
THAG ARRESTED

 

  • रिपोर्टः राजनारायण सिंह चौहान

मैनपुरी। यूपी की मैनपुरी में पुलिस ने नौकरी का झांसा देकर ठगी करने वाले दो जालसाजों को गिरफ्तार किया है। जालसाजों ने एयरपोर्ट पर नौकरी लगवाने का झांसा देकर कई युवाओं को ठगी का शिकार बनाया है। एसपी ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी के मामले दर्ज हैं।

दरअसल.... ये पूरा मामला शहर कोतवाली इलाके के बालाजीपुरम का है, जहां एसपी कमलेश दीक्षित ने बताया कि बालाजी पुरम निवासी हर्ष आर्य से एयरपोर्ट पर नौकरी लगवाने के नाम पर डेढ़ लाख रुपये की ठगी की गई थी। इसके अलावा कुश गुप्ता और कई अन्य लोगों के साथ नौकरी के नाम पर ठगी की शिकायतें मिली थीं। एसपी ने इंस्पेक्टर कोतवाली साइबर सेल प्रभारी विक्रम सिंह को खुलासे और आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी को निर्देशित किया था।

गुरुवार को इंस्पेक्टर ने एक सूचना पर देवी रोड बाईपास से ठगी करने वाले दो जालसाज आयुष कुमार और रमेश कुमार निवासी गांव छाछा थाना भोगांव को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों के कब्जे से ठगी के 34 हजार रुपये और दो मोबाइल बरामद हुए।

इंस्पेक्टर कोतवाली विक्रम सिंह ने बताया कि पकड़े गए जालसाज आयुष ने बताया कि वे अपने साथी शुभम भारती निवासी दीवानी रोड, आशीष निवासी हंस नगर के साथ मिलकर एयरपोर्ट के ग्राउंड स्टाफ में नौकरी लगवाने के नाम पर ठगी करते थे। ठगी का कुछ रुपये आयुष ने अपने पिता रमेश के खाता में भी डलवाया था। शुभम द्वारा विजय राठौर नाम का अधिकारी बनकर कई लोगों का फर्जी साक्षात्कार भी लिया गया है।