मुजफ्फरनगरः भारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच कोर्ट में पेश हुआ कुख्यात अनिल दुजाना

खाद व्यापारी संजीव त्यागी हत्याकांड में जारी थे वारंट

 
DUJANA

  • रिपोर्टः गोपी सैनी

मुजफ्फरनगर। कुख्यात अनिल दुजाना को भारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच बुधवार को फैजाबाद जेल से लाकर मुजफ्फरनगर अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश कोर्ट संख्या 5 में पेश किया गया। 2015 में हुए छपार के खाद व्यापारी संजीव त्यागी हत्याकांड में नामजद अनिल दुजाना के कोर्ट ने वारंट जारी किए थे। कोर्ट ने दुजाना को जेल से तलब किया।

दरअसल गांव छपार में 2012 में खाद व्यापारी राजीव त्यागी की गोलियां बरसाकर हत्या कर दी गई थी। राजीव त्यागी हत्यकांड के चश्मदीद और मृतक का भाई संजीव त्यागी पुलिस सुरक्षा में रहता था। 2015 में संजीव त्यागी की भी पुलिस सुरक्षा के दौरान ही गोलियां बरसाकर हत्या कर दी गई थी। उस हत्याकांड में कुख्यात अनिल दुजाना को भी नामजद किया गया था। संजीव त्यागी हत्याकांड के मुकदमे की सुनवाई अपर जिला एवं सत्र न्यायालय-5 में चल रही है। बुधवार को कोर्ट से तलबी के बाद अनिल दुजाना को भारी सुरक्षा में फैजाबाद जेल से लाकर कोर्ट में पेश किया गया।

अधिवक्ता नसीम अहमद ने बताया कि संजीव त्यागी हत्याकांड में अनिल दुजाना के पहले से वारंट चल रहे थे। एडीजे-5 ने उसे जेल से तलब कर उसके वारंट बनाए। उन्होंने बताया कि अब तक हाजिरी में फाईल थी। अब हत्याकांड की फाईल इवीडेंस में आ गई है। उन्होंने बताया कि 11 गवाह इस मुकदमे में पेश हो चुके हैं. और विवेचक की गवाही होनी है।

बताया जाता है कि दिल्ली से 60 किलोमीटर दूर स्थित दुजाना गांव निवासी कुख्यात अनिल नागर उर्फ अनिल दुजाना जरायम की दुनिया में बड़ा नाम है। उसके खिलाफ मुजफ्फरनगर समेत विभिन्न थानों में हत्या, रंगदारी, लूट आदि के दर्जनों मुकदमे दर्ज हैं। दुजाना की पश्चिमी उत्तर प्रदेश के बड़े अपराधी सुंदर भाटी गैंग से काफी पुरानी दुश्मनी है। जान को खतरा होने के कारण दुजाना कोर्ट में बुलेट प्रूफ जैकेट पहनकर आता है। बुधवार को भी दुजाना बुलेट प्रूफ जैकेट पहने हुए पेश हुआ. और उसके इर्द गिर्द भारी पुलिस फोर्स सुरक्षा में लगी थी।