मुजफ्फरनगर की अदालत ने शामली के रेपिस्ट शारुख को सुनाई उम्र कैद, 26 हजार का जुर्माना भी लगाया

जुर्माना अदा नहीं करने पर भुगतनी होगी 6 माह की अतिरिक्त सजा

 
COURT

  • रिपोर्टः एम रहमान, वरिष्ठ पत्रकार (मुजफ्फरनगर)

मुजफ्फरनगर। पॉक्सो की विशेष अदालत ने शामली के थाना कैराना इलाके के एक गांव में करीब 2 साल पूर्व नाबालिग के साथ बलात्कार करने वाले आरोपी को दोषी ठहराया है। अदालत ने शारुख को दोषी ठहराते हुए उम्र कैद की सजा सुनाई। साथ ही 26 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया है। जुर्माना अदा नहीं करने पर 6 माह की अतिरिक्त सजा काटने का फरमान सुनाया है।  

दरअसल 2 अगस्त 2020 को शामली के थाना कैराना के एक गांव में घर मे घुस कर आरोपी शारुख ने 15 वर्षीय बालिका के साथ बलात्कार किया और किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दी थी।  पीड़िता के पिता की शिकायत पर पुलिस ने धारा 452, 376, 506 आईपीसी और 3/4 पोक्सो अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर आरोपी शाहरुख को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। शारुख घटना के बाद से ही जेल में है।

मामले की सुनवाई विशेष अदालत पॉक्सो के जज मुमताज़ अली की कोर्ट में हुई। वादी की ओर से ज़िला शासकीय अधियाकता संजय चौहान और विशेष अभियोजक पॉक्सो पुष्पेंद्र मालिक ने पीड़िता समेत 8 गवाह पेश कर पैरवी की।