बीएसए का करीबी सीनियर रिश्वत लेते गिरफ्तार

विजिलेंस की टीम ने रिश्वत लेते हुए पकड़ा रंगे हाथों

 
RISHAVATKHOR ARRESTED

 

  • रिपोर्टः अमित राजपूत

कन्नौज। बीएसए ऑफिस में एक भ्रष्टाचार का बड़ा मामला सामने आया है, जहां तैनात बीएसए के करीबी सीनियर क्लर्क बलवीर सिंह यादव को रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया गया है। क्लर्क को एक शिक्षक का एरियर निकालने के एवज में दस हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए विजिलेंस लखनऊ की टीम ने रंगे हाथों पकड़ लिया है। इस दौरान वरिष्ठ लिपिक के पकड़े जाने के बाद बीएसए कार्यालय में हड़कंप मचा हुआ है।


दरअसल उत्कर्ष कटिहार सहायक अध्यापक के पद पर प्राथमिक स्कूल अवनी द्वितीय जलालाबाद में तैनात है। शिक्षक का कहना है कि कई महीने से उसका एरियर नहीं निकल रहा था। इसके कारण वो बाबू बलबीर सिंह यादव से लगातार एरिया निकालने की बात कह रहा था। इसके लिए वो लगातार ऑफिस के चक्कर लगा रहा था। शिक्षक ने कई बार बीएसए से भी एरियर निकलवाने की बात कही, लेकिन बीएसए कार्यालय में व्याप्त भ्रष्टाचार के कारण एरियर नहीं मिला। 

बीएसए के करीबी बाबू बलबीर सिंह ने शिक्षक से एरिया निकालने के नाम पर 10 हजार की रिश्वत मांगी। इस बात से परेशान होकर शिक्षक ने इसकी शिकायत विजिलेंस टीम से की। विजिलेंस की योजना के अनुसार सोमवार को शिक्षक रुपये देने के लिए पहुंचा,  तो कार्यालय में विजिलेंस की टीम ने रंगे हाथों सीनियर बाबू को रिश्वत लेते पकड़ लिया और गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।