लखीमपुर खीरी कांड पर एडीजी लॉ एंड ऑर्डर का बयान, बोले-24 घंटे के अंदर सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया

दोनों के पोस्टमार्टम की वीडियोग्राफी भी कराई गईः प्रशांत कुमार

 
aDG

लखनऊ। लखीमपुर खीरी के निघासन में हुई दो नाबालिग बहनों की हत्या के मामले में एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार का बयान सामने आया है। एडीजी लॉ एंड ने कहा कि 14 सितंबर को निघासन थाना इलाके में दो बहनों के शव लटके मिलने की सूचना मिली थी। पुलिस तत्काल मौके पर पहुंची। मृतकों की मां की तहरीर पर मुकदमा लिख लिया गया है। एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार बताया कि मामले की गंभीरता को देखते हुए लखनऊ से सीनियर अधिकारियों को भेजा गया है। जांच कर इस केस के सभी पहलुओं को देखा गया। उन्होने कहा कि फॉरेंसिक एविडेंस कलेक्ट किए गए। 24 घंटे के अंदर सभी 6 आरोपी गिरफ्तार किए गए है।

एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने बताया कि एक आरोपी पुलिस कार्रवाई में घायल हुआ है। पोस्टमार्टम की कार्रवाई पूरी हो चुकी है। शवों को परिजनों को सौंपा दिए गए है अब वो इनका अंतिम संस्कार अपने रीति रिवाज से करेंगे। कहा कि लखीमपुर कांड में पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बड़ा खुलासा हुआ है। दुष्कर्म के बाद गला दबाकर दोनों नाबालिग बहनों की हत्या की पुष्टि हुई है। डॉक्टरों के पैनल ने दोनों बहनों का पोस्टमार्टम किया। दोनों के पोस्टमार्टम की वीडियोग्राफी भी कराई गई है।

बता दें कि लखीमपुर खीरी में दो बहनों की हत्या के मामले में गुरुवार को पुलिस ने प्रेस कांफ्रेंस कर कई खुलासे किए हैं। पुलिस अधीक्षक संजीव सुमन ने बताया कि दुष्कर्म के बाद घटना को कुल 6 लोगों ने अंजाम दिया। नामजद छोटू समेत 6 आरोपी गिरफ्तार किए गए हैं। आरोपियों की पहचान छोटू, सुहेल, जुनैद, हफीजुल्लाह, करीमुद्दीन, आरिफ के रूप में हुई है।