गाजियाबाद पुलिस ने किया फर्जी दस्तावेजों से आधार कार्ड बनाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, आरोपी अरेस्ट

2 से 3 हजार रुपये में बनाते थे आधार कार्ड

 
arropi arrest
  • रिपोर्टः अजीत रावत

गाजियाबाद के लोनी बॉर्डर थाना पुलिस ने फर्जी दस्तावेज से आधार कार्ड बनाने वाले एक गिरोह का पर्दाफाश किया है। गैंग जिन लोगों के पास आधार कार्ड नहीं होते थे उनको सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाने के नाम पर पैसे लेकर फर्जी आधार कार्ड बनाते थे। पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार करते हुए आधार कार्ड बनाने का सामान बरामद किया है।

ये भी पढ़ेः नकली तंबाकू का कारोबार करने वाले गिरोह का पर्दाफाश

दरअसल लोनी बॉर्डर पुलिस ने दो हजार से तीन हजार लेकर फर्जी दस्तावेज से आधार कार्ड बनाने वाले गैंग को गिरफ्तार किया है। गैंग गाजियाबाद के लोनी बॉर्डर क्षेत्र में लोगों के लिए फर्जी दस्तावेज लगाकर आधार कार्ड बताना है। फर्जी दस्तावेज लगाकर आधार कार्ड बनाने के लिए गैंग आई आर आई एस डिवाइस, वेब कैमरा और नकली मुहरों का इस्तेमाल किया करते थे। पुलिस ने आसिफ, खालिद और जावेद को गिरफ्तार किया है। इन लोगों ने दिल्ली के विधायक कई स्कूलों के प्रिंसिपल आरडब्लूए से जुड़े लोगों की नकली मुहर भी बनवा रखी थी जिनसे ये फर्जी दस्तावेज से आधार कार्ड बनाने वाले लोगों का पता सत्यापित किया करते थे।

arropi arrest

ये गैंग इतना शातिर था लोगों के मात्र फोटो से उनका रेटिना स्कैन कर लिया करता था इसके लिए वो एचडी क्वालिटी के फोटो में तब्दील कर दिया करते थे और फिर उसी फोटो से रेटिना स्कैन करके फर्जी आधार कार्ड बना दिया कर देते इन्होंने फिंगर प्रिंट स्कैन करने के लिए फर्जी रबड़ के फर्जी फिंगरप्रिंट भी बनवा रखे थे जिसका उपयोग फिंगरप्रिंट स्कैनर के लिए किया करते थे।