शपथ ग्रहण करने के बाद बोले दिल्ली के उपराज्यपाल, लोकल गार्जियन के तौर पर काम करूंगा

मेरा सपना है दिल्ली सिटी ऑफ जॉय, सिटी ऑफ फ्लावर बनेः विनय कुमार सक्सेना

 
lg

दिल्ली। 22वें उपराज्यपाल के तौर पर शपथ ग्रहण के बाद मीडिया से बातचीत में विनय कुमार सक्सेना ने कहा कि मैं लेफ्टिनेंट गवर्नर की हैसियत से नहीं, दिल्ली के नागरिकों के लिए लोकल गार्जियन के तौर पर काम करूंगा। दिल्ली की बेहतरी के लिए मुझे आप राजनिवास में कम, दिल्ली की सड़कों पर ज्यादा देखेंगे। मेरा सपना है कि दिल्ली सिटी ऑफ जॉय, सिटी ऑफ फ्लावर बने।

विनय सक्सेना ने कहा कि आपस में लड़े, खून भी बहाया है बहुत पर, जो कुछ भी हुआ है, उसे अच्छा है भूला दो। हिंदू हैं न मुस्लिम, न सिख, न ईसाई, शैदां हैं हम वतन पर, दुनिया को दिखा दो। उपराज्यपाल ने हालिया हिंसक झड़पों का जिक्र करते हुए लोगों से शांति और सद्भाव के साथ रहने का आग्रह करते हुए ये पंक्तियां कहीं। साथ ही उन्होने कहा दिल्ली में सबसे बड़ी समस्या प्रदूषण की है। ये कड़वी सच्चाई है कि दिल्ली दुनिया के सबसे प्रदूषित शहरों में से एक है। दिल्ली सरकार, केंद्र सरकार और दिल्लीवासियों के सहयोग से दिल्ली को प्रदूषण से मुक्त करने के लिए प्रयास करेंगे।

सक्सेना ने नियुक्ति के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को धन्यवाद दिया। कहा कि दिल्ली में बहुत से ऐसे लोग रहते हैं, जो वित्तीय रूप से कमजोर हैं और समाज की मुख्यधारा से कट गए हैं।