नहीं मिला था अवकाश तो दरोगा ने की थी आत्महत्या की कोशिश, अब मिली 14 दिन की छुट्टी

पारिवारिक विवाद को सुलझाने के लिए घर जाने का चाहिए था अवकाश

 
up police

मुजफ्फरनगर। साकेत कॉलोनी में फांसी लगाकर आत्महत्या की कोशिश करने वाले दरोगा 14 दिन के अवकाश पर चले गए है। पारिवारिक विवाद को सुलझाने के लिए उन्हें घर जाने के लिए अवकाश चाहिए था, लेकिन अवकाश न मिलने और पारिवारिक सदस्यों की बात से आहत होकर उन्होंने ये कदम उठाया था।

दरअसल बुलंदशहर निवासी मीरापुर थाने में तैनात एक दरोगा की वर्तमान में क्यूआरटी में ड्यूटी लगाई गई है। उन्हें कुछ दिन पहले हार्ट में परेशानी हुई थी, तब वे चार दिन के अवकाश पर घर गए थे। इसके दो दिन बाद ही उन्होंने साकेत में अपने किराए के कमरे में फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या करने की कोशिश की थी। मगर, इससे पहले उन्होंने एक वीडियो मीरापुर थाने के ग्रुप में वायरल कर दी थी। उनके इस कदम की सूचना पुलिस तक पहुंच गई थी। बताया जा रहा है कि उनके घर पर पारिवार के साथ कुछ लोगों का विवाद हुआ है। जिसका निपटारा होता दिखाई नहीं दे रहा है। इस बारे में उनकी अपने परिजनों से बातचीत हुई थी। उन्होंने गंभीर बात कही तो वो मानसिक रुप से परेशान हो गए थे। उन्हें हार्ट की भी परेशानी थी। वे कई समस्याओं से जूझ रहे थे। इसी वजह से उन्होंने ये कदम उठाया था।

सीओ सिटी आयुष विक्रम सिंह ने ये जानकारी दी है कि। दरोगा ने अवकाश मांगा था। लेकिन हाल ही में वे अवकाश से आए थे। उनके अवकाश के दौरान पुलिस के अवकाश बंद होने के वरिष्ठ अधिकारियों के आदेश आ गए थे। दरोगा मानसिक रुप से परेशान थे। अब वे 14 दिन के लिए अवकाश पर गए है।