मुजफ्फरनगरः DM ने कर-करेत्तर को लेकर की बैठक, अधिकारियों को राजस्व वसूली के दिए निर्देश

IGRS पर आई शिकायतों के निस्तारण पर दिया जोर

 
मुजफ्फरनगर

मुजफ्फरनगर। जिलाधिकारी चंद्रभूषण सिंह ने कर-करेत्तर की बैठक लेकर वसूली की समीक्षा की। उन्होंने विभिन्न विभागों के अधिकारियों को लक्ष्य के अनुरूप वसूली के आदेश दिए। इसके साथ आइजीआरएस पर आई शिकायतों के निस्तारण पर भी जोर दिया।

कलक्ट्रेट स्थित लोकवाणी भवन में आयोजित बैठक में डीएम ने कर-करेत्तर और राजस्व कार्यो की समीक्षा की। उन्होंने वाणिज्यकर, स्टांम एवं निबंधन, आबकारी, परिवहन, ऊर्जा, नगर पालिका और नगर पंचायत, वन विभाग और खनन, कृषि विपणन और मंडी समिति आदि प्रमुख बिंदुओं पर चर्चा की। डीएम ने कर करेत्तर और लक्ष्य के आधार पर वसूली के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए। साथ ही लंबित राजस्व वादों का शीघ्र सुनवाई करके निस्तारण करने को भी कहा। उन्होंने कुछ तहसीलों में लक्ष्य के अनुरूप वादों का निस्तारण न किए जाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए तत्काल लक्ष्य निर्धारित करने के निर्देश दिए।

डीएम ने स्टांप वाद, राजस्व संहिता के अविवादित विरासत, अविवादित दाखिल खारीज, तालाब, आवासीय भूमि, कृषि भूमि, वृक्षारोपण आदि का आवंटन, चकमार्ग और सार्वजनिक उपयोग की भूमि में अतिक्रमण हटाए जाने के निर्देश दिए। आईजीआरएस के अंतर्गत प्राप्त शिकायतों का निस्तारण, रिट याचिकाएं, खतौनी अंश निर्धारण की कार्रवाई, स्वामित्व योजना, रोस्टर के अनुसार खतौनियों का दाखिला, एंटी भू माफिया जैसे कार्यों पर अब तक किए गए कार्यों की प्रगति को बढ़ाने के निर्देश भी उन्होंने दिए। उन्होंने मासिक लक्ष्य के सापेक्ष पूर्ति के संबंध में वाणिज्य कर, स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन, आबकारी, परिवहन, ऊर्जा विभाग, नगर विकास, वन विभाग, खनन आदि विभागों को निर्धारित समय में राजस्व वसूली का कार्य पूरा करने के निर्देश भी दिए।