मुजफ्फनगर नगर पालिका अध्यक्ष ने किया पद छोड़ने का ऐलान, प्रशासन पर लगाए आरोप

शिकायतों और जांच को लेकर आहत है अंजू अग्रवाल

 
अंजू अग्रवाल

मुजफ्फरनगर। उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में नगर पालिका परिषद मुजफ्फरनगर की चेयरपर्सन अंजू अग्रवाल ने गुरुवार को नगर पालिका कार्यालय पहुंचकर सभासदों के बीच शासन की कार्रवाई से आहत होकर चेयरपर्सन का पद छोड़ने का ऐलान कर दिया। अंजू अग्रवाल ने कहा कि उन्होंने अपने कार्यकाल में कर्जदार नगरपालिका को यूपी की सबसे मालदार नगर पालिका बनाने का काम किया। इसमें मैं सभी सभासदों, नगर पालिका अधिकारियों और कर्मचारियों के सहयोग किया उनका मैं आभार व्यक्त करती हूं।

चेयरपर्सन ने कहा कि उनके खिलाफ लगातार शिकायते दर्ज कराई गईं। 135 विकास कार्यों के टेंडर हो चुके हैं। उन विकासकार्यों को रोक दिया गया। चेयरपर्सन अंजू अग्रवाल ने कहा उनके खिलाफ षड्यंत्र रच कर शहर के विकास कार्यो को रोका गया। एक महिला के अधिकारों को छीना गया। आहत होकर पद छोडऩे को मजबूर हुई। मेरी अंतरात्मा ने कहा है, ईश्वर का आदेश है कि मुझे त्यागपत्र दे देना चाहिए। सभासदों को अपनी मंशा बता दी है।

बता दें कि लगातार शिकायतों और जांच से परेशान होकर अंजू अग्रवाल कांग्रेस से बीजेपी में गईं। वहां भी राजनीति की शिकार हो गईं। हालांकि अंजू अग्रवाल का इस्तीफा मंजूर होगा या नहीं? लेकिन इस पर राजनीति हलचल जरूर बढ़ गई है।