जहांगीरपुरी इलाके में हुई हिंसा के बाद निकाली तिरंगा यात्रा, दिया भाईचारे का संदेश

तिरंगा यात्रा पर लोगों ने छतों पर खड़े होकर की पुष्पवर्षा

 
TRINGA YATRA

  • रिपोर्टः प्रभाकर राणा

दिल्ली। जहांगीरपुरी इलाके में हिंसा के नौवें दिन तिरंगा यात्रा निकालकर पूरे इलाके में अमन शांति और भाईचारे को बहाल करने की कोशिश की जा रही है जहांगीरपुरी हिंसा के दिन से ही पूरे इलाके में तनाव का माहौल है जहांगीरपुरी में भारी मात्रा में पुलिस बल मौजूद है जिसके चलते लोगों का रोजगार भी पूरी तरीके से लगभग बंद हो चुका है आवाजाही में दिक्कतें आ रही है और इसी माहौल को पूरी तरीके से सामान्य करने के उद्देश्य से तिरंगा यात्रा को निकालने का फैसला लिया गया.

दरअसल 2 दिन पहले अमन कमेटी दिल्ली पुलिस स्थानीय हिंदू मुस्लिम समुदाय के लोगों की एक मीटिंग हुई थी इस मीटिंग में यह तय हुआ कि इलाके के लोग तिरंगा यात्रा निकाल कर दोबारा से भाईचारे से रहेंगे और किसी भी तरीके की राजनीति से भी दूर रहेंगे। उसी फैसले के तहत ये तिरंगा यात्रा निकाली गई। लोगों के हाथों में तिरंगा है और हिंदू मुस्लिम समुदाय के लोग एक दूसरे का हाथ पकड़ कर भाईचारे का संदेश दे रहे थे। इस मौके पर भारी मात्रा में पुलिस बल और पुलिस के आला अधिकारी भी तिरंगा यात्रा के साथ में मौजूद जिससे किसी तरीके की कोई दिक्कत ना हो सके।

तिरंगा यात्रा जिस जगह से भी निकल रही थी वहां लोग अपने घरों की छतों से पुष्प वर्षा करके इस यात्रा का स्वागत कर रहे थे। फूलों की वर्षा पूरे जहांगीरपुरी में घरों से की जा रही है और यह साफ दर्शाता है कि हर कोई आपसी सौहार्द्र और अमन-चैन के साथ रहना चाहता है.